रामलाल ठाकुर और राठौर के बीच जबरदस्त नोंक झोंक, सामने आई कांग्रेस की आपसी फूट

शिमला। प्रदेश कांग्रेस पार्टी उपचुनाव एकजुट होकर लडऩे की बात कह रही है। पार्टी में अंदरूनी लड़ाई अभी भी बरकरार है। पार्टी सूत्रों के अनुसार, शनिवार को चुनाव समिति की बैठक में नयनादेवी विधानसभा क्षेत्र के विधायक रामलाल ठाकुर और प्रदेशाध्यक्ष कुलदीप राठौर के बीच तीखी नोकझोंक हुई है।

काफी बहस इसको लेकर हुई। रामलाल ठाकुर ने बैठक में नाराजगी जताई। सूत्रों के मुताबिक, उन्होंने कहा कि वह कुल्लू जिला के प्रभारी हैं। कुल्लू में पार्टी की बैठकें हो रही हैं और उन्हें सूचित ही नहीं किया जाता। टिकट फाइनल होने से पहले सार्वजनिक मंचों से ऐलान करना भी गलत है। बैठक में बिलासपुर जिला की कमेटी को भंग करने का मामला उन्होंने उठाया।

कांग्रेस प्रदेश अध्यक्ष कुलदीप राठौर ने भी इस पर तल्खी दिखाई। उन्होंने कहा कि सूचना देना उनका काम नहीं है। जिला व ब्लाक कमेटी को उन्हें सूचित करना चाहिए। पार्टी को एकजुट होकर यह चुनाव लडऩा है। इस तरह के विवाद से पार्टी को ही नुकसान होगा। विवाद का यह मामला पार्टी हाईकमान तक पहुंच गया है। हाईकमान ने एकजुट होकर चुनावी मैदान में उतरने के निर्देश दिए हैं।

विक्रमादित्य सिंह को दिल्ली बुलाया, हालीलाज में बैठक

मंडी संसदीय सीट पर प्रतिभा ङ्क्षसह का टिकट लगभग तय माना जा रहा है। टिकट फाइनल होने से पहले प्रतिभा ङ्क्षसह के पुत्र व शिमला ग्रामीण से विधायक विक्रमादित्य ङ्क्षसह को पार्टी हाईकमान ने दिल्ली बुलाया है। रविवार सुबह 11 बजे के करीब वह शिमला से दिल्ली के लिए रवाना हुए। चंडीगढ़ से हवाई मार्ग से वह दिल्ली जाएंगे। दिल्ली में उनका पार्टी महासचिव केसी वेणुगोपाल और प्रदेश प्रभारी राजीव शुक्ला से मिलने का कार्यक्रम हैं। पार्टी इस सीट पर जीत का दावा कर रही है। वहीं रविवार को हालीलाज में दिनभर बैठक का दौर चलता रहा। पार्टी के कई नेता सुबह ही लाजीलाज पहुंचे। सूत्रों की मानें तो नामांकन को लेकर मंथन हुआ कि कब नामांकन पत्र दाखिल करना है। नामांकन के दौरान कितनी भीड़ जुटानी है।

error: Content is protected !!