एसपी के घर से सोने की दो अंगूठियां गायब, जातीय आधारित प्रताड़ना से तंग आकर दलित महिला कर्मी ने की आत्महत्या की कोशिश

हिमाचल में मुख्यमंत्री के गृह क्षेत्र में जातिगत अत्याचार किस कदर हावी है। इस बात का पता इसी बात से चल जाता है कि पुलिस अधीक्षक शालिनी अग्निहोत्री के आवास से बीते सप्ताह दो सोने की अंगूठियां चोरी होती है और पुलिस एक दलित महिला सफाई कर्मी पर इस कदर अत्याचार करती है कि वह आत्महत्या करने का प्रयास जैसा गंभीर कदम उठाने पर मजबूर हो जाती है।

पीड़िता के पति से मिली जानकारी के मुताबिक महिला थाना प्रभारी ने दलित महिला सफाई कर्मी से ना केवल मारपीट की बल्कि उसके बाल उखाड़े,थप्पड़ मारे और थाने में उसको जातिसूचक शब्द भी कहे। आपको बता दें कि बीते दिनों पुलिस अधीक्षक शालिनी अग्निहोत्री की सोने की दो अंगूठियां गुम हो गईं है। यह दोनों अंगूठियां उनके आवास से गायब हुई है और इस मामले में महिला थाना मंडी में शालिनी अग्निहोत्री ने शिकायत दर्ज करवाई है।

पुलिस अधीक्षक शालिनी अग्निहोत्री

पुलिस शिकायत दर्ज करने के बाद पुलिस अधीक्षक के घर पहुंची और वहां अंगूठियों को ढूंढने के लिए तलाशी ली और वहां काम करने वाले कर्मचारियों से भी पूछताछ की। जानकारी मिली है कि जिन कर्मियों से पूछताछ की गई थी, उनमें से एक दलित महिला सफाई कर्मी ने सोमवार को जहर खा कर जान देने की कोशिश की।

महिला सफाई कर्मी के मुताबिक उनकी पत्नी को महिला थाना में मारा पीटा गया तथा उनको थाना प्रभारी रीता ठाकुर द्वारा जातिसूचक शब्द भी कहे गए। उन्होंने बताया कि महिला थाना प्रभारी रीता ठाकुर जबरदस्ती महिला सफाई कर्मी को अपराध कबूल करने और दोनों अंगूठियां देने के लिए दबाब बना रही थी। पुलिस की जातिगत प्रताड़ना और मारपीट के चलते उनकी पत्नी ने फिनाइल पीकर जान देने की कोशिश की है।

पीड़ित दलित महिला का बयान

दलित महिला सफाईकर्मी को उसको परिजन तुरंत सुंदरनगर अस्पताल ले गए। यहां से महिला की हालत गंभीर होने पर उसको जोनल हास्पिटल, मंडी रेफेर कर दिया गया। इलाज के बाद अब महिला सफाई कर्मी की हालत स्थिर बताई जा जा रही है। एसपी शालिनी अग्निहोत्री ने बताया कि उन्होंने किसी व्यक्ति विशेष के खिलाफ कोई शिकायत नहीं दी है। उन्होंने पुलिस को उन्होंने सिर्फ अपनी अंगूठियां गुम होने की सूचना दी है। उन्होंने कहा कि महिला ने जहर क्यों खाया पुलिस इस बारे में जांच कर रही है।

अब इस मामले में हिमाचल प्रदेश भीम आर्मी सामने आ गई है। भीम आर्मी के राज्य प्रवक्ता सुरेश कुमार ने मांग की है कि पुलिस अधीक्षक शालिनी अग्निहोत्री को तत्काल उनके पद से हटाया जाए तथा महिला थाना प्रभारी के खिलाफ एससी एसटी एक्ट में मुकदमा दर्ज किया जाए। मंडी पुलिस दलितों पर इस तरह जातीय अत्याचार तुरंत बंद करे।

उधर भीम आर्मी के प्रदेशाध्यक्ष रवि कुमार दलित ने भी मंडी प्रशासन और सरकार को चेताया है कि अगर दलित महिला सफाई कर्मी को जातीय आधार पर प्रताड़ित करने के मामले में थाना प्रभारी रीता ठाकुर के खिलाफ कोई कानूनी कार्यवाही नही की जाती है तो भीम आर्मी मंडी में सड़कों पर उतरेगी और पुलिस अधीक्षक का घेराव करेगी। जिसकी पूर्ण जिमेवारी हिमाचल प्रदेश सरकार की होगी।

error: Content is protected !!