मानवता शर्मसार; प्रेमी के साथ भागी महिला ने पति के पास वापिस जाने के लिए नाले में फेंक कर मार दी जुड़वा बेटियां

छोटी काशी के नाम से देश विदेश में अपना वर्चस्व कायम करने वाले मंडी शहर में रविवार को एक दिल दहला देने वाला बेहद ही शर्मनाक मामला सामने आया। जिसमें एक मां ने ही अपनी तीन माह की मासूमों को बेहद ही दर्दनाक मौत देकर मौत के घाट उतार दिया।

मां की कोख में नौ माह रह कर तीन महीने पहले दुनियां में आई दोनों मासूमों को क्या पता था कि जिस मां ने उनको नौ माह अपनी कोख में रखा, उनके पैदा होने पर वहीं मां उनको इस तरह की दर्दनाक मौत देगी। जबकि तीन महीने की दोनों मासूमों ने दुनिया देखने के लिये अभी सही ढंग से आंखे भी नहीं खोली थी कि उनकी कलियुगी मां ने उन्हें हमेशा के लिए मौत की नींद सुला दिया।

गौरतलब है कि रविवार सुबह मंडी शहर के रविनगर वार्ड से होकर बहने वाली सुकोड़ी खड्ड में दो मासूम बच्चियों के शव मिले। हालांकि पुलिस ने मुस्तैदी दिखाते हुए कुछ ही घंटों में इस मामले पटाक्षेप करते हुये कलियुगी मां को हिरासत में लेकर सारे मामले से पर्दा उठा दिया।

जानकारी के अनुसार नीलकंठ अस्पताल में कार्यरत सुहड़ा मोहल्ला निवासी पंकज कुमार सुबह अपनी ड्यूटी से छुट्टी कर घर जा रहे थे। तो उनकी नजर पुल के पास फंसी इन बच्चियों पर पड़ी। उन्होंने पहले दोनों को खिलौने समझा। लेकिन जब नजदीक जाकर देखा तो ये बच्चे थे। उन्होंने तुरंत पुलिस को सूचना दी। पुलिस ने मौके पर पहुंचकर शवों को कब्जे में लिया और कार्रवाई शुरू कर दी। पुलिस को इस महिला तक पहुंचने में पुलिस के मुखबिरों ने मदद की, जिसके बाद पुलिस ने महिला को हिरासत में लिया और सारे मामले का पटाक्षेप किया।

मिली जानकारी के अनुसार 35 वर्षीय यह महिला रविनगर वार्ड की ही रहने वाली है। बीते एक वर्ष से यह महिला अपने प्रेमी संग फरार थी। प्रेमी के साथ रहते हुए इसने दो जुड़वां बच्चियों को जन्म दिया। लेकिन जब प्रेमी के साथ भी अनबन होने लगी। तो फिर इसे दोबारा से अपने ससुराल की याद आई। 17 सितंबर की रात को यह महिला मंडी शहर पहुंची और अपने ससुराल जाने से पहले दोनों नवजात बच्चियों को सुकोडी खड्ड में जिंदा फेंक आई।

अपने ससुराल यह महिला बिल्कुल अकेली आई। चूंकि अगर बच्चियों को साथ ले जाती तो तरह तरह के सवाल पूछे जाते और उनके जबाव देने पड़ते। इन्हीं से बचने के लिए इस कलियुगी मां ने अपनी ही नवजात बच्चियों को मौत के हवाले कर दिया। पुलिस ने महिला के खिलाफ मामला दर्ज कर जांच शुरू कर दी है।

एएसपी मंडी आशीष शर्मा ने मामला दर्ज होने की पुष्टि करते हुये बताया कि अभी महिला पुलिस हिरासत में है और पूछताछ जारी है। इस मामले को लेकर छोटी काशी में तरह तरह की चर्चायें चली हुई। चूंकि इस घटना से छोटी काशी का नाम भी बदनाम हुआ है।

error: Content is protected !!