Shimla News: फुलझड़ी जला रहे पुजारी के पांच साल के बेटे को उठा ले गया तेंदुआ, इलाके में फैली दहशत

शिमला. हिमाचल प्रदेश के शिमला (Himachal Pradesh) शहर में एक बार फिर से तेंदुए (Leopard attack in Shimla) की दहशत देखने को मिली है. यहां पर घर के आंगन से एक पांच साल के बच्चे को तेंदुआ उठा कर ले गया है.

शिमला शहर के पुराने बस अड्डे के नीचे लालपानी की यह घटना है. दीवाली के दिन देर रात बच्चा (Child) जब घर के आंगन में फुलझड़ी जला रहा था तो तेंदुआ (Leopard) बच्चे को उठा कर ले गया है. बच्चे के बारे में शुक्रवार सुबह भी पता नहीं चल पाया है. हालांकि, पास ही जंगल में बच्चे की खून से सनी पेंट मिली है. स्थानीय पार्षद ने मामले की पुष्टि की है. वहीं, पुलिस घटना के बाद मौके पर पहुंची थी. शिमला के डीएफओ ने घटना की पुष्टि की है.

स्थानीय पार्षद ने बताया कि दिवाली की रात को करीब 8 बजे उन्हें यह सूचना मिली थी कि तेंदुआ एक पांच साल के बच्चे योगराज को उठा ले गया है. हालांकि, उन्होंने कहा कि अभी पता नहीं चला है कि तेंदुए ने ही हमला किया था या कोई और जानवर था. उन्होंने कहा कि रात को 11 बजे उन्होंने पुलिस को घटना की सूचना दी थी. वहीं, वन विभाग की टीम भी मौके पर पहुंची हुई है.

शिमला में डाउनटेल में तेंदुआ बच्चे को उठाकर ले गया है.

25 साल से रहता है परिवार

जानकारी के अनुसार, सोलन जिले के अर्की के चंडी कश्लोग का यह परिवार बीते 25 साल से शिमला के ओल्ड बस स्टेंड के नीच डाउनटेल में रहता है. यहां पर देर रात बच्चा जब आंगन में फुलझड़ी जला रहा था तो तेंदुए ने हमला कर दिया. बच्चे का परिवार पुजारी है. बच्चे की मां ने बताया कि वह किचन में थी. इस दौरान बच्चा अंदर से फुलझड़ी जलाकर बाहर आया और बाद में उसका कुछ पता नहीं चला. काफी तलाश की पर कुछ पता नहीं चला है. शिमला के डीएफओ ने बताया कि मौके पर वन विभाग की टीम बच्चे की तलाश कर रही है. खून से सनी हुई एक पेंट मिली है. सीसीटीवी और पिंजरा लगाया गया है. बच्चे की जल्द ही तलाश कर ली जाएगी.

तीन महीने पहले बच्ची को ले गया था तेंदुआ

बता दें कि इससे पहले भी शिमला के कनलोग में छह अगस्त को एक आठ साल की बच्ची को तेंदुआ घर से उठा कर ले गया था. बच्ची के शरीर के टुकड़े जंगल से बरामद हुए थे. बाद में वन विभाग ने यहां पर पिंजरा भी लगाया था. लेकिन तेंदुआ पकड़ में नहीं आया था. अब फिर से तेंदुए ने बच्चे को शिकार बनाया है. ऐसे में लोगों में तेंदुए को लेकर दहशत है.

Please Share this news:
error: Content is protected !!