Treading News

हिमाचल में जून महीने में बर्फबारी, वाहनों की आवाजाही पर असर

RIGHT NEWS INDIA: 14,500 फीट की ऊंचाई पर स्थित साच पास (Snowfall at Saach Pass) दर्रे पर रुक-रुक कर हिमपात होने से परेशानी होने लगी है. बता दें कि सबसे अधिक ऊंचाई पर स्थित सबसे खूबसूरत पर्यटन स्थल को देखने के लिए हर साल लाखों की संख्या में पर्यटक यहां पहुंचते हैं और यहां पर बर्फबारी का आनंद लेते हैं.

पिछले दो तीन दिनों से उक्त साच पास दर्रे पर हिमपात होने से बीच बीच में वाहनों की आवाजाही पर इसका असर पड़ने लगा है. सबसे बड़ी मुश्किल यहां तब बढ़ जाती है जब यहां कोई भी नेटवर्क नहीं चलता है. ऐसे में बैरागढ़ के पास पुलिस की पोस्ट भी तैनात रहती है जो आने जाने वाले यात्रियों की जानकारी रखती है.

चंबा: मंगलवार को चंबा-किलाड़ मार्ग पर साच दर्रे पर करीब डेढ़ फीट ताजा बर्फबारी हुई और साच पास पर रुक-रुक कर बर्फबारी का क्रम लगातार जारी है. जिला चंबा और पांगी घाटी को जोड़ने वाले साच पास दर्रे से जहां एक तरफ चंबा के लिए आवाजाही शुरू हो गई थी और जिला मुख्यालय से पांगी को जाने वाल नजदीक रास्ता माना जाता है, लेकिन 14,500 फीट की ऊंचाई पर स्थित साच पास दर्रे पर रुक-रुक कर हिमपात होने से परेशानी होने लगी है. बता दें कि सबसे अधिक ऊंचाई पर स्थित सबसे खूबसूरत पर्यटन स्थल को देखने के लिए हर साल लाखों की संख्या में पर्यटक यहां पहुंचते हैं और यहां पर बर्फबारी का आनंद लेते हैं.

पिछले दो तीन दिनों से उक्त साच पास दर्रे पर हिमपात होने से (Snowfall at Saach Pass) बीच-बीच में वाहनों की आवाजाही पर इसका असर पड़ने लगा है. सबसे बड़ी मुश्किल यहां तब बढ़ जाती है जब यहां कोई भी नेटवर्क नहीं चलता है. ऐसे में बैरागढ़ के पास पुलिस की पोस्ट भी तैनात रहती है जो आने जाने वाले यात्रियों की जानकारी रखती है. पिछले कल यहां पर डेढ़ फीट के आसपास हिमपात होने से रास्ता भी बंद

हुआ था, लेकिन लोक निर्माण विभाग समय-समय पर रास्ता खोलने का प्रयास कर रहा है, लेकिन अब चुराह प्रशासन ने एहतियात के तौर पर दो बजे के बाद साच पास की तरफ वाहनों की आवाजाही पर रोक लगा दी है.

एसडीएम चुराह गिरीश सुमरा ने जानकारी देते हुए कहा की दो तीन दिन से मौसम खराब है और साच पास पर बर्फबारी होने से परेशानी बढ़ जाती है. इसके लिए पुलिस को भी निर्देश दिए हैं कि लोगों की सही जानकारी दें. वहीं, दूसरी ओर चुराह उपमंडल के एसडीएम गिरीश सुमरा ने मीडिया से बातचीत में जानकारी देते हुए कहा कि साच पास की तरफ जाने वाले लोगों के लिए निर्देश दिए गए हैं कि मौसम खराब होने पर और दोपहर दो बजे के बाद आगे जाने की मनाही है. पिछले दो तीन दिनों से मौसम खराब है और बर्फबारी भी होती है. ऐसे में पुलिस को भी निर्देश दिए गए हैं कि लोगों की सही जानकारी पोस्ट के जवान रखें, ताकि मौसम खराब होने से मुश्किल ना हो सके, क्योंकि साच पास में नेटवर्क नहीं होने से मुश्किल हो जाती है. फिलहाल रास्ता खुला है, लेकिन बीच-बीच में दिक्कत हो रही है.

Comments: