यूजी परीक्षा परिणाम से गुस्साए छात्रों ने राज्यपाल को दिया ज्ञापन

0

शिमला। हिमाचल प्रदेश विश्वविद्यालय की ओर से घोषित किए गए बीएससी फर्स्ट ईयर की परीक्षा में करीब 80 फीसदी छात्र फेल होने का मुद्दा लगातार गरमाता जा रहा है। छात्र विवि परिसर के खिलाफ लगातर प्रदर्शन कर रहें हैं।

इस कड़ी में छात्र संगठनों एसएफआई और एनएसयूआई ने शुक्रवार को एक कार्यक्रम में शिरकत करने विश्वविद्यालय पहुंचे राज्यपाल राजेंदर विश्वनाथ आर्लेकर को ज्ञापन सौंपा और छात्रों को आ रही दिक्क़तो के समाधान की मांग उठाई।

छात्र संगठनों का कहना है कि वीआरपी सिस्टम से पेपर चेक किए गए जिससे 80 प्रतिशत छात्र फेल हो गए हैं। इस ऑनलाईन सिस्टम में खामियाँ हैं। उनका कहना है कि रिचेकिंग के बाद जो पास होते हैं उनकी फीस को रिफंड की जानी चाहिए। छात्र संगठनों का कहना है कि विश्वविद्यालय में 6 से 7 हजार विद्यार्थी पढ़ रहे हैं, लेकिन केवल बारह सौ के करीब के लिए ही हॉस्टल की सुविधा हैं।

राजनेता विश्वविद्यालय में आकर पट्टिका लगाकर चले जाते हैं, लेकिन ये समस्याएं समाप्त नहीं हो रही हैं। उनका कहना है कि छात्र संघ के चुनाव बहाल किए जाने चाहिए। छात्रों ने आरोप लगाया कि अध्यापक राजनीतिक गतिविधियों में पढ़ाई से ज्यादा शामिल रहते हैं जिससे विश्वविद्यालय में पढ़ाई का स्तर गिर रहा हैं।

Previous articleचुनावी रैली से पहले भद्रकाली मंदिर पहुंचे प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी, देशवासियों के लिए की सुख समृद्धि की प्रार्थना
Next articleकॉलेज में धार्मिक कट्टरता फैलाई और 370 पर दी भ्रामक जानकारी, 6 प्रोफेसर 5 दिनों के लिए निलंबित

समाचार पर आपकी राय: