पूर्व मंत्री सुरेश भारद्वाज को टक्कर मारने के आरोपी से हुई पूछताछ, जानें कैसे हुआ था एक्सीडेंट

0

पुर्व मंत्री सुरेश भारद्वाज को टक्कर मारने के बाद फरार आरोपी की पहचान कर ली गई है। गोविंद (25) गुम्मा, चौपाल निवासी छोटा शिमला में दवाइयों की दुकान में काम करता है। प्रारंभिक जांच के मुताबिक वह स्कूटी सीख रहा था।

दीपक की शिकायत पर पुलिस मामले की जांच कर रही है। पुलिस ने आरोपी के खिलाफ एमवी एक्ट में कार्रवाई की है। शनिवार शाम कीब 4:45 बजे पूर्व मंत्री सुरेश भारद्वाज घर के बाहर खड़े थे।

वह कुछ लोगों से बातचीत कर रहे थे। इस दौरान छोटा शिमला पार्किंग की तरफ से आ रही एक स्कूटी ने पहले टैक्सी को टक्कर मारी, इसके बाद पूर्व मंत्री को टक्कर मार दी। टक्कर से वह घायल हो गए। उनके नाक और सिर में चोटें आई हैं। पुलिस पूछताछ में गोविंद ने बताया कि वह डर गया था और मौके से भाग गया। इधर, छोटा शिमला थाना पुलिस ने मुकदमा दर्ज कर छानबीन कर रही है।

पूर्व मंत्री सुरेश भारद्वाज का उपचार जारी
पूर्व शहरी विकास मंत्री सुरेश भारद्वाज का आईजीएमसी में उपचार जारी है। डॉक्टरों का कहना है कि उनकी हालत में सुधार है। आईजीएमसी के वरिष्ठ चिकित्सा अधीक्षक डॉ. राहुल राव ने बताया कि भारद्वाज को डॉक्टरों ने अपनी निगरानी में रखा है। पूर्व मंत्री सुरेश भारद्वाज छोटा शिमला स्थित स्ट्राबेरी हिल में रहते हैं।

शनिवार शाम के समय घर से बाहर टहलने निकले थे। इसी बीच एक स्कूटी चालक ने उन्हें टक्कर मार दी। उनके नाक और माथे पर चोटें आई हैं। इसके बाद इन्हें इलाज के लिए अस्पताल लाया गया और सीटी स्कैन करवाया गया। अब इनकी हालत सामान्य है।

Previous articleसुखविंदर सुक्खू का राजनाथ सिंह को भारत जोड़ो यात्रा पर पूछे सवाल का जवाब, जानें क्या कहा
Next articleकुल्लू और मंडी के 233 कैडेट्स ने दी एनसीसी ए प्रमाण पत्र के लिए परीक्षा

समाचार पर आपकी राय: