हिमाचल में एक और ब्लैक फंगस का मामला आया सामने, नाक से निकाली गली सड़ी चमड़ी

हिमाचल प्रदेश में शनिवार को ब्लैक फंगस का दूसरा मामला आया है। सोलन के अर्की की 41 वर्षीय महिला राजधानी शिमला में रहती है। कोरोना से उपचार के बाद महिला स्वस्थ हो गई थी, लेकिन आंखों की रोशनी जाने की शिकायत लेकर बीते दिन आईजीएमसी शिमला में भर्ती हुई। महिला में ब्लैक फंगस की पुष्टि हो चुकी है लेकिन अंतिम जांच के लिए कल्चर और वाईएफसी के नमूने भेजे गए हैं। बता दें कि बीते दिन ही हमीरपुर की महिला (52) में भी ब्लैक फंगस पाया गया था। शनिवार को उसका ऑपरेशन होना था लेकिन उच्च रक्तचाप के चलते नहीं हो पाया।

आईजीएमसी में पीड़ित दूसरी महिला के भी नाक में ही ब्लैक फंगस पाया गया है। ईएनटी विभाग के विशेषज्ञों ने शनिवार को महिला के नाक में गल-सड़ चुकी चमड़ी को सर्जिकल ट्रीटमेंट कर निकाला।

महिला की आरटीपीसीआर रिपोर्ट निगेटिव आई है। महिला की आंखों की रोशनी जाने के पीछे भी ब्लैक फंगस माना जा रहा है। उधर, आईजीएमसी के एमएस डॉ. जनक राज ने बताया कि अर्की से एक पोस्ट कोविड ब्लैक फंगस का संभावित केस आया है। प्रारंभिक रिपोर्ट पॉजिटिव है। 100 फीसदी पुष्टि के लिए कुछ सैंपल लेकर जांच के लिए भेजे हैं। मरीज की हालत अभी स्थिर है।

error: Content is protected !!