एक महीने बाद भी नही हुआ सड़क की समस्या का समाधान, ग्रामीणों ने कहा, डीसी कार्यालय में करेंगे मुंडन

विधानसभा क्षेत्र शाहपुर के अंतर्गत बरनेट-घेरा सड़क निर्माण की मांग को लेकर तीन दिनों से उपायुक्त कार्यालय के बाहर लोग क्रमिक अनशन कर रहे हैं। क्षेत्र के युवाओं ने आज यानी सोमवार को दोपहर बाद उपायुक्त कार्यालय परिसर में मुंडन करवाने का निर्णय लिया है। यहां बता दें कि 12 जुलाई को हुई बारिश के कारण कैंट नाला के पास 100 मीटर सड़क बहने से खड़ीबेही, रावा, भत्तला, करेरी गांवों का मुख्य मार्ग से संपर्क कट चुका है। वहीं ग्रामीणों को बरनेट-घेरा रोड से उम्मीद थी, लेकिन उसका भी निर्माण न होने से ग्रामीण सरकार व प्रशासन से खफा हैं और यही वजह है कि अब ग्रामीणों को क्रमिक अनशन जैसा कदम उठाना पड़ा है।

उनका कहना है कि बारिश में यह मार्ग बह गया है। जिस पर ग्रामीण एक सप्ताह पहले डीसी कांगड़ा से मिलने आए थे और डीसी के आदेशों पर विभिन्न विभागों के अधिकारी मौका पर पहुंचे थे। उस दौरान अधिकारियों ने कहा था कि कैंट रोड को बनाने में छह माह का समय लगेगा। पिछले एक माह से समस्या बनी हुई है, लेकिन सरकार व प्रशासन मूकदर्शक बने हुए हैं।

धारकंडी क्षेत्र के अंतर्गत आते इन लोगों को एक माह से ज्‍यादा समय से सड़क सुविधा न होने से काफी दिक्कतें पेश आ रही हैं। बुजुर्गों व महिलाओं को विशेषकर परेशानी झेलनी पड़ रही हैं। रावा, खड़ीबेही व बरनेट से घेरा के लिए जो मार्ग है वह भी बंद पड़ा है। डीसी कार्यालय पहुंचे ग्रामीण आक्रोशित हैं। डीसी कांगड़ा से उम्मीद है कि वह ही अब समस्या का ही समाधान करें।

error: Content is protected !!