Himachal: पीठासीन अधिकारियों का सम्मेलन, 17 नवंबर को मोदी पहुंच सकते है शिमला

हिमाचल प्रदेश (Himachal Pradesh) की राजधानी शिमला (Shimla) में 82वें अखिल भारतीय पीठासीन अधिकारियों के सम्मेलन में 17 नवंबर को पीएम नरेंद्र मोदी (PM Narednra Modi) शामिल हो सकते हैं.

जहां ये सम्मेलन 16 से 19 नवंबर तक चलेगा. वहीं, हिमाचल सरकार (Himachal Government) की ओर से पीएम को इस सम्मेलन में लाने की तैयारी है. हालांकि अभी पीएमओ की ओर से इस बात आधिकारिक मंजूरी नहीं मिली है. इस दौरान प्रदेश सरकार के अधिकारियों ने बताया कि पीएमओ के साथ सरकार इस बात संपर्क में हैं. यदि प्रधानमंत्री ने इस आमंत्रण को स्वीकार किया, तो राज्य सरकार कुछ लंबित पड़े शिलान्यास प्रधानमंत्री से करवा सकती है.

दरअसल, लगभग 100 साल पहले 1921 में शिमला में प्रथम अखिल भारतीय पीठासीन अधिकारियों का सम्मेलन हुआ था. उसके बाद अब होने जा रहे इस सम्मेलन में लोकसभा अध्यक्ष ओम बिड़ला (Om BidlaP बतौर मुख्य अतिथि शामिल होंगे. इस दौरान 36 राज्यों की विधानसभाओं, विधान परिषदों के पीठासीन अधिकारी, उपाध्यक्ष और प्रधान सचिव सम्मेलन में भाग लेंगे. वहीं, लोकसभा और राज्यसभा सचिवालय के लगभग 70 अधिकारी और कर्मचारी भी शिमला आएंगे. ऐसे में प्रदेश के राज्यपाल, सीएम और कैबिनेट मंत्रिमंडल के सदस्य भी सम्मेलन में मौजूद रहेंगे.

100 साल पहले शिमला विधानसभा में हुआ था सम्मेलन

बता दें कि सावड़ा कुड्डू समेत 2 ऐसे बिजली प्रोजेक्ट भी हैं, जो बन गए हैं और जिनका उद्घाटन होना है. कुछ प्रोजेक्ट्स का शिलान्यास भी किया जा सकता है. ऐसी चर्चा है कि उद्योग विभाग की तरफ से ग्लोबल इन्वेस्टर्स मीट की सेकंड ग्राउंड ब्रेकिंग के एमओयू साइन कर लिए जाएं, लेकिन इसमें कनेक्टिविटी एक इश्यु है और उसके लिए धर्मशाला ही आयोजन स्थल सही रहेगा.

फिलहाल सारी नजरें पीएमओ ऑफिस पर टिकी है कि वह इस निमंत्रण को स्वीकार करते हैं कि नहीं.वहीं, देश में पीठासीन अधिकारियों का सम्मेलन 100 साल पहले शिमला विधानसभा के भवन में हुआ था. अब विधानसभा अध्यक्ष विपिन सिंह परमार ने यह सम्मेलन करवाने का फैसला लिया था और लोकसभा अध्यक्ष से भी आग्रह किया था.

कल बीजेपी की राष्ट्रीय कार्यकारिणी समिति की बैठक

गौरतलब है कि बीजेपी की राष्ट्रीय कार्यकारिणी समिति की रविवार को वर्चुअल बैठक होगी. इस बैठक में सीएम जयराम ठाकुर, प्रदेश अध्यक्ष सुरेश कश्यप, केंद्रीय मंत्री अनुराग ठाकुर, पूर्व सीएम प्रेम कुमार धूमल, शांता कुमार सहित प्रदेश बीजेपी प्रभारी अविनाश राय खन्ना और सहप्रभारी संजय टंडन भी जुड़ेंगे. जहां हिमाचल में हुए मंडी संसदीय सीट समेत फतेहपुर, अर्की और जुब्बल कोटखाई विधानसभा के उपचुनाव में मिली बीजेपी की हार को लेकर चर्चा होने की संभावना है.

वहीं, बीजेपी के राष्ट्रीय अध्यक्ष जेपी नड्डा के गृह प्रदेश में हुई बीजेपी की इस करारी हार की देश भर में चर्चा हो रही है. संभावित है कि बैठक में इसको लेकर सीएम सहित सभी अन्य से जवाब तलब हो. इस बैठक में हार के कारणों की समीक्षा होने के आसार जताए जा रहे हैं. ऐसे में सीएम की ओर से भी राष्ट्रीय नेतृत्व को हार के कारणों के बारे में बताया जाएगा.

HOTEL FOR LEASEHotel New Nakshatra

Hotel News Nakshatra for Lease. Awesome Property with 10 Rooms, Restaurant and Parking etc at Kullu.

error: Content is protected !!