कुल्लू में पुलिस ने नष्ट किया अफीम का बगीचा, लगभग 21000 पौधों की खेती की गई थी

कुल्लू जिला की उपतहसील सैंज के तहत ग्राम पंचायत तलाड़ा के रोट व धार गांव में पुलिस ने अफीम की खेती का पर्दाफाश किया है। अफीम की खेती करने के आरोप के 2 मामले दर्ज हुए हैं। सैंज पुलिस द्वारा की गई इस कार्रवाई में अपनी निजी भूमि पर अफीम की अवैध रूप से खेती करने का आरोप 2 व्यक्तियों पर लगा है। जानकारी के मुताबिक थाना सैंज पुलिस टीम द्वारा भांग व अफीम की खेती को पकडऩे के लिए शुरू किए गए अभियान के तहत यह मामला सामने आया है। पुलिस द्वारा की गई रेड के बाद क्षेत्र में हड़कंप मच गया है। पुलिस नशे की अवैध रूप से की गई खेती के सर्च अभियान में इस तरह के और मामले उजागर कर सकती है।

हाल ही में भुंतर से काट कर सैंज थाना में शामिल की गई तलाड़ा पंचायत के रोट गांव में पुलिस की पहली दबिश में गुरुदयाल पुत्र हीरा लाल के मकान के साथ 7 खेतों में अफीम की खेती पाई गई, जिसमें 16,500 अफीम के पौधों को पुलिस द्वारा नष्ट कर दिया गया है। दूसरे मामले में साथ लगते धारा गांव में दीनानाथ पुत्र हुक्म सिंह के सेब के बगीचे में अफीम की खेती पाई गई, जिसमें 4500 अफीम के पौधों को नष्ट किया गया तथा अब पुलिस द्वारा आगामी कार्रवाई शुरू कर दी गई है। एसपी गौरव सिंह ने बताया कि अब जमीन की निशानदेही की प्रक्रिया पूरी होने के बाद आगामी कार्रवाई अमल में लाई जाएगी।

error: Content is protected !!