नौजवान सभा ने की पुलिस भर्ती में फीस कम करने व कॉन्ट्रैक्ट पीरियड तीन साल करने की मांग

आज भारत की जनवादी नौजवान सभा क्षेत्रीय कमेटी बाली चौकी ने माननीय मुख्यमंत्री हिमाचल प्रदेश सरकार को तहसीलदार बाली चौकी के माध्यम से पुलिस भर्ती को लेकर मांग पत्र सौंपा। गौरतलब है कि हिमाचल प्रदेश में हिमाचल प्रदेश पुलिस विभाग ने 1 अक्टूबर 2021 से पुलिस भर्ती के लिए आवेदन मांगे हैं। भारत की जनवादी नौजवान सभा इस अधिसूचना के कुछ निर्णय से संतुष्ट नहीं है। देश व प्रदेश में डबल इंजन की सरकार के यह निर्णय बेरोजगार युवाओं के साथ भद्दा मजाक है। प्रदेश में लगातार निजी कंपनियों और बड़े ठेकेदारों को फायदा पहुंचाने वाली नीतियों को आगे ले जाने की ओर कदम है और पुलिस सहित सभी सेवाओं को निजी हाथों में सौंपने की साजिश है। क्योंकि जहां एक तरफ महंगाई लगातार बढ़ रही है वहीं सरकार युवाओं के साथ भद्दा मजाक करते हुए सरकारी नौकरियों में वेतन कम कर रही है। पुलिस भर्ती की इस अधिसूचना में भी सरकार ने पुलिस के वेतनमान में कटौती की है।

नौजवान सभा ने ज्ञापन के माध्यम से सरकार से मांग की है कि 1. नये वेतनमान में की गई कटौती को समाप्त करते हुए पुराना वेतनमान ही दिया जाए। 2. नौजवान सभा यह भी मांग करती है कि 8 वर्ष नियमित वेतनमान प्रबंधन को 3 वर्ष किया जाए। 3. करोना प्रोटोकॉल के तहत बढ़ाई गई ₹100 फीस अभ्यर्थियों से ना ली जाए। 4. महिला अभ्यर्थियों की फीस हिमाचल प्रदेश चयन बोर्ड हमीरपुर की तर्ज पर माफ की जाए।

नौजवान सभा ने कहा कि यदि सरकार नौजवान सभा की इन मांगों को पूरा नहीं करती है तो निश्चित तौर पर नौजवान सभा आने वाले समय में युवाओं को संगठित करते हुए आंदोलन करेगी और साथ ही नौजवान सभा युवाओं से आग्रह करती है कि सरकार की इन बड़ी-बड़ी कंपनियों और बड़े घरानों को फायदा पहुंचाने वाली नीतियों का विरोध करें और आगे आए।

error: Content is protected !!