कंगना संघ परिवार के एक व्यक्ति का नाम बताए, जिसने आजादी में अपनी जान की कुर्बानी दी- विक्रमादित्य

शिमला : अभिनेत्री कंगना रनौत को आजादी मिलने वाला बयान अब सुर्खियों में है। कंगना के बयान सभी जगह निंदा हो रही है। कंगना ने पद्मश्री मिलने के बाद एक टीवी शो के दौरान कहा था कि 1947 में भीख मिली थी, आजादी तो 2014 में मिली है।

कंगना के इस बयान के बाद कंगना से पद्मश्री सम्मान वापस लिए जाने की मांग भी उठ रही है। इसी बीच कांग्रेस विधायक विक्रमादित्य सिंह ने एक ट्वीट किया और उसमें उन्होंने कंगना को कहा है कि कंगना जी एक मात्र संघ परिवार से संबंधित व्यक्ति का नाम बता दें जिन्होंने आजादी में अपनी जान की कुर्बानी दी थी।

error: Content is protected !!