पूर्व सैनिक की मुस्तैदी से पिंजरे में कैद हुआ 70 से ज्यादा मुर्गियों को खाने वाला तेंदुआ

मंडी जिले की ग्राम पंचायत पलोहटा के नेहरा गांव में मुर्गियों का शिकार करने वाला तेंदुआ सोमवार तड़के पकड़ा गया। तेंदुआ पिछले कई दिनों से घात लगाकर मुर्गी खाने से मुर्गियों को अपना शिकार बना रहा था।

मुर्गियों की रोजाना घटती संख्या से मुर्गी पालक सूबेदार (सेवानिवृत) बेसर राम भी चिंतित थे। सोमवार तड़के तेंदुआ एक बार फिर शिकार करने के लिए मुर्गी खाने में घुसा।

इस दौरान बेसर राम मौके पर पहुंचा और तेंदुए ने एकाएक उस पर घात लगा दी। लेकिन पूर्व सैनिक ने मुस्तैदी दिखाते हुए तुरंत मुर्गी खाने का दरवाजा बंद कर दिया और तेंदुए को कैद कर लिया। बेसर राम ने बताया पिछले कुछ दिनों में तेंदुआ उसकी करीब 70 मुर्गियों को डकार गया है। बेसर राम ने तेंदुआ को कैद करने के बाद वन विभाग व पुलिस को मौका पर बुलाया।

वन विभाग की टीम ने ट्रेंकुलाइज गन से तेंदुए को बेहोश करके पिंजरे में डाल पालमपुर के गोपालपुर स्थित जू में भेज दिया है। वन मंडल अधिकारी सुकेत सुभाष पराशर ने इसकी पुष्टि की है। तेंदुए के पकड़े जाने से ग्रामीणों ने भी राहत की सांस ली है।

Please Share this news:
error: Content is protected !!