लाहौल स्पीति में काले झंडों से हुआ मुख्यमंत्री जय राम ठाकुर का स्वागत, मार्कण्डेय से भी जनता नाराज

मुख्यमंत्री जय राम ठाकुर को लाहुल दौरे के दौरान काले झंडों के बीच से भी गुजरना पड़ा। लाहुल-स्पीति युवा कांग्रेस ने मुख्यमंत्री को काले झंडे दिखाए। पिछले लंबे समय से धरने पर बैठी युवा कांग्रेस की मांग को दरकिनार करने और अब तक मांग को लेकर कोई कदम नहीं उठाने पर युवा कांग्रेस के कार्यकर्ताओं ने काले झंडे दिखाए। जानकारी के अनुसार जब मुख्यमंत्री उदयपुर में उद्घाटन, शिलान्यास और जनसभा को संबोधित करने के बाद केलांग मुख्यालय की ओर आ रहे थे तो इसी दौरान यूरनाथ के समीप युवा कांग्रेस के कार्यकर्ताओं ने मुख्यमंत्री के काफिले को काले झंडे दिखाए।

बता दें कि जनजातीय जिला लाहुल-स्पीति के युवा कांग्रेस मुख्यालय केलांग में पिछले 26 दिनों से चरमराई स्वास्थ्य सेवाओं को लेकर धरने-प्रदर्शन पर बैठे हैं। वहीं, प्रदर्शन के माध्यम से सरकार से लाहुल-स्पीति में स्पेलिस्ट डाक्टर भेजने की गुहार लगा रहे हैं। वहीं, इस पर न सरकार और न ही प्रशासन ने गौर नहीं किया।

यही नहीं स्थानी विधायक और सरकार में मंत्री डा. राम लाल मार्कंडेय ने भी इनकी मांग को अनदेखा किया। ऐसे में आक्रोषित लाहुल-स्पीति युवा कांग्रेस के कार्यकर्ताओं ने मुख्यमंत्री के काफिले को हरी झंडी दिखाई। वहीं, खूब नारेबाजी भी की। लाहुल-स्पीति युवा कांग्रेस के उपाध्यक्ष कूंगा बोध ने कहा कि पिछले 26 दिनों से लगातार धरना एवं भूख हड़ताल पर बैठी युवा कांग्रेस की मांगे अभी तक पूरी नहीं की गई है। क्षेत्रीय अस्पताल में स्वास्थ्य सुविधा को सुधाने को लेकर अभी भी युवा कांग्रेस हड़ताल पर है।

लाहुल-स्पीति के लोगों के साथ यह भाजपा सरकार सौतेला व्यवहार कर रही है। लोगों के स्वास्थ्य के साथ खिलवाड़ किया जा रहा है। विशेषज्ञ चिकित्सक, लैब टेक्नीशियन, ब्लड बैंक न होने से स्वास्थ्य सुविधाएं चरमराई हुई। मरीजों को उपचार के लिए दूसरे जिलों में जाना पड़ रहा है।

अटल टनल रोहतांग बनने से लाहुल के लोगों का सफर हालांकि हम हुआ है, लेकिन स्वास्थ्य सुविधाएं जस की तस हैं। उन्होंने कहा कि 24 दिनों बाद हालाकि प्रशासन ने उनसे बात की। लेकिन बात समस्या का हल होने वाली नहीं थी। उपायुक्त ने उनसे बातचीत कर कहा कि लाहुल में कोई डाक्टर नहीं आना चाहता है, हम कुछ नहीं कर सकते हैं और धरने को संपन्न किया जाए। उन्होंने कहा कि सरकार भी मांग को लेकर इतने समय में चुपी साधे बैठी। ऐसे में युवा कांग्रेस के कार्यकर्ताओं ने लाहुल की जायज मांग को अनदेखा करने पर रविवार को मुख्यमंत्री के काफिले को काले झंडे दिखाए।

उन्होंने कहा कि यदि सरकार का यूं ही रैवया रहा तो आंदोलन को और उग्र रूप दिया जाएगा। युवा कांग्रेस लाहुल-स्पीति जनजातीय क्षेत्र की जनता की लड़ाई को लडऩे से पीछे नहीं हटेगी।

error: Content is protected !!