खूब राम बने भारतीय किसान यूनियन (टिकैत) के मंडी जिला प्रभारी

गोहर, सुभाग सचदेवा। भारतीय किसान यूनियन (टिकैत) ने नाचन हल्के के दियारगी निवासी खूब राम को जिला मंडी का प्रभारी नियुक्त किया है। नियुक्ति पत्र में भारतीय किसान यूनियन के नवनियुक्त जिला प्रभारी खूब राम को यूनियन की सेवा व जारी निर्देशों के लिए तुंरत प्रभाव से अमल करने के आदेश जारी किए हैं।

उन्हें आदेश हैं कि 15 दिनों के अंदर जिला कार्यकारिणी व ब्लॉक स्तर पर कमेटियों का गठन कर मोर्चा की राज्य कमेटी को रिपोर्ट प्रेषित करें। हिमाचल प्रदेश भारतीय किसान यूनियन के अध्यक्ष एडवोकेट अनिंदर सिंह नॉटी ने ऊक्त नियुक्ति की पुष्टि की है।

खूब राम को जिला प्रभारी के पद पर मिली नियुक्ति से जिला के कई किसानों ने स्वागत किया है। किसानों ने उम्मीद जताई है कि पद की गरिमा को बनाए रखने के लिए किसानों की सुरक्षा का जिम्मा भी उठाएंगे। बता दें कि भारतीय किसान यूनियन संयुक्त मोर्चा के संयोजक राकेश टिकैत को हिमाचल दौरे के दौरान किसानों और बागवानों से मिले समर्थन के बाद राज्य के किसान सक्रिय हो गए हैं।

नवनियुक्त जिला प्रभारी खूब राम ने कहा है कि केंद्र सरकार के द्वारा जो किसान विरोधी तीन अध्यदेश जारी किए है। कानूनों को रद्द करने के बजाए सरकार ने पूंजीपतियों के दबाव में आकर अड़ियल रवैये को अपनाया है। जिस कारण बीते दस महीनों से ऊक्त कानूनों के खिलाफ दिल्ली के विभिन्न बॉडरों पर किसानों को बैठना पड़ रहा है। आंदोलन में शामिल किसानों द्वारा सयुंक्त मोर्चे का गठन किया है। ताकि किसानों की बात सुनने के लिए सरकार आगे आए।

उन्होंने कहा कि वह किसान का बेटा होने के नाते मोर्चा से जुड़ने के लिए गर्व महसूस कर रहे हैं। ताकि आने वाली पीढ़ी यह न कहे कि सरकार के किसान विरोधी कानूनों के खिलाफ आप लड़ नहीं सकते थे, तो दिल्ली को घेरे बैठे किसानों का साथ तो दे सकते थे। मेरा मानना है किसानों की शक्ति के सामने कोई खड़ा नहीं हो सकता। हिंदुस्तान का किसान हटेगा नहीं, डरेगा नहीं। जब तक कानून रद्द नहीं होते तब तक डटे रहेंगे। खूब राम ने कहा कि भारतीय किसान यूनियन के पदाधिकारियों की ओर से जारी दिशा निर्देशानुसार जिला व ब्लॉक स्तर पर कार्यकारिणी के गठन को लेकर कवायद शरू कर दी गई है। ब्लॉक स्तर पर बैठकों का आयोजन शुरू कर सक्रिय व प्रगतिशील किसानों को संगठन से जोड़ कर कमेटियों के गठन प्रक्रिया अमल में लाई जा रही है।

error: Content is protected !!