जेबीटी-डीएलएड प्रशिक्षुउतरे सड़कों पर, डीसी ऑफिस में किया प्रदर्शन और जम कर नारेबाजी

जेबीटी-डीएलएड प्रशिक्षु विद्यार्थी संघ कांगड़ा के नेतृत्व में अपनी मांग को लेकर जेबीटी प्रशिक्षु आज पांचवें दिन भी सड़कों पर उतरे व विरोध प्रदर्शन कर जमकर नारेबाजी की।

पांचवें दिन भी जेबीटी प्रशिक्षुओं ने कक्षाओं का बहिष्कार किया और शहर में रैली निकाली। इस दौरान जेबीटी प्रशिक्षुओं ने उपायुक्त कार्यालय परिसर में धरना देकर जमकर नारेबाजी भी की। जेबीटी प्रशिक्षु अपनी मांगों को लेकर संस्थान से लेकर उपायुक्त कार्यालय तक रोष रैली निकाल रहे हैं। ऐसे में आज भी रैली निकालकर सड़क पर जमकर नारेबजी की।

यह है मुख्य मांग

जेबीटी प्रशिक्षुओं के मुताबिक पिछले दो वर्षों से जो मामला उच्च न्यायालय में चला था, जिसका फैसला 26 नवंबर को जेबीटी विपरीत रहा जबकि सरकार का पक्ष भी जेबीटी प्रशिक्षुओं के हक में रहा था। उच्च न्यायालय के इस फैसले से चालीस हजार प्रशिक्षुओं का भविष्य खतरे में हैं। इसलिए सरकार इस मामले न्यायालय में पुनर्विचार याचिका दायर किए जाने की मांग को लेकर आंदोलन शुरू किया गया है। प्रशिक्षुओं के मुताबिक उनका आंदोलन तब तक जारी रहेगा जब तक कि उनकी मांगों को सरकार पूरी नहीं करती।

अपनी मांग पर अड़े है जेबीटी- डीएलएड प्रशिक्षु

जेबीटी प्रशिक्षुओं के अनुसार उन्हें ये किसी भी सूरत में बर्दाश्त नहीं है कि उनका हक किसी और को दिया जाए, क्योंकि वह भी मेहनत कर रहे हैं और उसका फल उन्हें मिलना चाहिए। जेबीटी-डीएलएड प्रशिक्षु संघ के पदाधिकारियों ने कहा कि जेबीटी को उनका हक मिलना चाहिए। इसके लिए प्रदेश सरकार को प्रयास करने चाहिए। जेबीटी व डीएलएड प्रशिक्षु सरकार से न्याय की गुहार लगा रहे हैं। उनका कहना है कि यह प्रदर्शन जारी रहेगा।

Please Share this news:
error: Content is protected !!