जय राम ठाकुर ने कांग्रेस पर कसा तंज, कहा, 50 हजार करोड़ का ऋण छोड़ गए थे इसलिए लेना पड़ा और कर्ज

बिलासपुर। हिमाचल सरकार (Himachal Goverment) द्वारा बार-बार लोन लेने को लेकर विपक्ष के आरोपों का सीएम जयराम ठाकुर (CM Jairam Thakur) ने पलटवार किया है। सीएम ने कहा कि लोन (Loan) लेने जैसे हालात कांग्रेस की पूर्व सरकारों ने ही पैदा किए है। कांग्रेस (Congress) ने प्रदेश पर 50 हजार करोड़ रुपए के कर्ज का बोझ लादा हुआ है। यह प्रथा कांग्रेस ने ही शुरू की है और अब ऐसे हालात बन गए हैं कि प्रदेश सरकार बिना लोन लिए आगे बढ़ ही नहीं सकती है और लोन लेना अब मजबूरी बन गया है। यह जवाबी हमला उन्होंने 207 करोड़ की लागत की 24 विभिन्न विकासात्मक परियोजनाओं के उद्घाटन-शिलान्यास करने के बाद शुक्रवार को राजकीय वरिष्ठ माध्यमिक पाठशाला कंदरौर (Kandroor) के खेल मैदान में आयोजित जनसभा में किया।

उन्होंने कहा कि कांग्रेस के समय तो कोरोना (Corona) नहीं था तो फिर बार-बार क्यों लोन लेते रहे और प्रदेश को हजारों करोड़ के कर्ज तले धकेल दिया। उन्होंने कहा कि सरकार के चार साल के कार्यकाल में से दो साल कोरोना संकट में ही बीत गए। कोविड (Covid) का दौर सरकार के समक्ष कड़ी परीक्षा का दौर था और कोविड का खासा असर प्रदेश की आर्थिकी पर पड़ा है, इसलिए लोन लेना पड़ रहा है।

उन्होंने कहा कि अब तक सरकार के कार्यकाल में सेवा और समर्पण भाव के साथ जनता की सेवा की है। कोविड दौर शुरू हुआ तो प्रदेश में केवल मात्र दो ऑक्सीजन प्लांट (Oxygen Plant) एक टांडा व आईजीएमसी शिमला (IGMC Shimla) में थे, लेकिन हमारी सरकार ने 41 ऑक्सीजन प्लांट स्थापित कर हैं। इसी प्रकार पचास साल तक राज करने वाली कांग्रेस के समय प्रदेश में 50 वेंटिलेटर थे और उनमें से भी 20 ही ऐसे थे तो चलने लायक थे, लेकिन आज प्रदेश में वेंटिलेटर की तादाद 900 हो चुकी है। उन्होंने कहा कि कोरोना संकट में बड़ी बड़ी बातें करने वाले कांग्रेस गायब हो गएए लेकिन भाजपा नेताओं व विधायक और मंत्रियों सहित कार्यकर्ताओं ने जनता की मदद करने में कोई कसर नहीं छोड़ी।

सीएम ने कहा कि कोरोना महामारी में कांग्रेस ने कुछ नहीं किया। हमने मास्क (Mask) बांटे, सेनेटाइजर बांटे, लेकिन कांग्रेस ने कुछ नहीं किया, सिवाए बिल बनाने के। उन्होंने बिल बना दिया 12 करोड़ का और पार्टी हाईकमान को भेज दिया और कहा कि ये बिल उनके खाते में डाल दो। ये लोग अपनी ही पार्टी को लूटने में लगे हैं। अगर ये पार्टी देश या प्रदेश में होती तो पता नहीं क्या-क्या लूट लेती। बीजेपी (BJP) कार्यकर्ताओं ने उन लोगों के शव भी जलाए हैं, जिनके परिवारों ने उन्हें छूने से मना कर दिया था।

सीएम ने कहा कि ये बिलासपुर (Bilaspur) है, गर्म इलाका है। यहां के आटे की तासीर भी गर्म है, थोड़ी सी बात पर भी अगर बात बिगड़ गई तो संभालनी मुश्किल होती है। बिलासपुर वाले जब तक कुछ छीनेंगे नहीं, तब उन्हें तसल्ली नहीं होती, इसीलिए बिलासपुर को अब एक अलग पहचान मिल रही है।

Please Share this news:
error: Content is protected !!