जगजीवन पाल ढोंगी, कर रहा थप्पड़ खाओ और टिकट पाओ की राजनीति- विपिन सिंह परमार

कांगड़ा। पूर्व कांग्रेस विधायक जगजीवन पाल (Jag Jeevan Pal) पर हुए हमले को लेकर विधानसभा अध्यक्ष विपिन सिंह परमार (Vipin Singh Parmar) ने मीडिया चैनल से बातचीत करते हुए यह बात कही।

उन्होंने बातचीत के दौरान कहा कि वे इस प्रकार की घटना की कड़ी निंदा करते हैं। किसी को भी कानून लेने का अधिकार नहीं है। जिन्होंने भी इस प्रकार की हरकत की है, उस पर कानून अपने मुताबिक कार्रवाई करेगा। इसके साथ ही उन्होंने पूर्व सीपीएस जगजीवन पाल को ढ़ोंगी बताया।

उसकी पोल तो अब मैं खोलूंगा

स्पीकर विपिन सिंह परमार ने कहा कि पूर्व विधायक की पोल तो अब मैं खोलूंगा। जब जगजीवन विधायक थे। तब इन्होंने सुलह विधानसभा (Sulah Assembly) के लिए क्या किया था। जिस पेट्रोल पंप को गरीबों को मिलना चाहिए था। उसे इन्होंने अपने परिवार के लोगों को दिलवाया। विधानसभा क्षेत्र की जनता के भलाई करने के बजाए खुद सत्ता में रहते हुए मलाई खाई। एक रुपए का भी सुलह का विकास जगजीवन ने अपने कार्यकाल के दौरान नहीं किया।

केजरी टाइप राजनीति

हिमाचल अभी-अभी से बातचीत के दौरान उन्होंने कहा कि पूर्व विधायक केजरीवाल (Kejriwal) टाइप राजनीति करने लगे हैं। विपिन सिंह परमार ने कहा कि सुलह कांग्रेस में अभी टिकट की दावेदारी को लेकर रस्साकशी का दौर चल रहा है। इसलिए धरनेबाज जगजीवन पाल इस प्रकार से चेहरा चमकाने की कोशिश कर रहे हैं। ताकि आगामी विधानसभा चुनाव के दौरान वे अपनी टिकट की दावेदारी पक्का कर सकें। उन्होंने इससे पहले भी कई बार इस प्रकार की नौटंकी की है। प्रेम कुमार धूमल के सीएम रहते भी उन्होंने एक सभा के दौरान धरना दिया था। एक बार फिर वे यही हरकत दोहराने में लगे हैं।

क्षेत्र में निकलेगी शांति मार्च

विधानसभा स्पीकर विपिन सिंह परमार ने कहा कि जगजीवन पाल और कांग्रेस के खिलाफ बीजेपी शांति मार्च निकालेगी। यह मार्च विधानसभा क्षेत्र के हर गली-कूचे से होकर गुजरेगी। इस दौरान पूर्व के कांग्रेस की कारस्तानियों को जनता के सामने रखेगी।

लोकतंत्र की हत्या है ये

कांग्रेस विधायक ठाकुर सुखविंद्र सिंह सुक्खू ने पूर्व सीपीएस जगजीवन पाल पर हमले को लोकतंत्र की हत्या बताया है। उन्होंने कहा कि लोकतांत्रिक तरीके से सभी को विरोध प्रदर्शन का अधिकार है। पूर्व विधायक के साथ मारपीट करने से बीजेपी की चाल, चेहरा और चरित्र बेनकाब हो गया है। गुंडागर्दी के दम पर बीजेपी सरकार विपक्ष की आवाज को दबाना चाहती है।

कांग्रेस इसे नहीं करेगी बर्दाश्त

सुक्खू ने कहा कि कांग्रेस पार्टी इसे कतई बर्दाश्त नहीं करेगी। पूरी पार्टी जगजीवन पाल के साथ चट्टान की तरह खड़ी है। इस मामले में सरकार लीपापोती की कोशिश कर रही है। जिसके खिलाफ हर मंच पर आवाज बुलंद की जाएगी। सीएम जयराम ठाकुर इस मामले में हस्तक्षेप कर पूर्व सीपीएस को न्याय दिलाएं। अगर जगजीवन को जल्दी न्याय नहीं मिला तो कांग्रेस पार्टी पूरे प्रदेश में सड़कों पर उतरने को मजबूर होगी।

स्पीकर पर लगाया आरोप

उन्होंने कहा कि लोकतांत्रिक व्यवस्था में विधायकों पूर्व विधायकों के हितों के रक्षक विधानसभा अध्यक्ष होते हैं। अगर उन्हीं के कार्यकर्ता पूर्व सीपीएस पर हमला बोलते हैं तो विधायिका की रक्षा कौन करेगा। उन्होंने कहा कि विधानसभा अध्यक्ष अपनी जिम्मेदारियों का सही से निर्वाह करने में विफल रहे हैं। अगर वे चाहते तो यह प्रकरण नहीं होता। लेकिन, उन्होंने जानबूझकर विवाद खड़ा किया। विपिन सिंह परमार ने जगजीवन पाल को ढोंगी बताया। उन्होंने कहा कि टिकट पाने की होड़ में बने रहने के लिए जगजीवन पाल इस तरह की राजनीति करते हैं।

error: Content is protected !!