हालात ठीक रहे तो अगस्त से खुलेंगे 10वीं-12वीं कक्षा के लिए स्कूल

हिमाचल प्रदेश में कोरोना संक्रमण के मामले कम होने की रफ्तार इसी तरह से जारी रही तो अगस्त से 10वीं और 12वीं कक्षा के विद्यार्थियों के लिए स्कूल खुल सकते हैं। 25 जुलाई तक ग्रीष्मकालीन स्कूलों में अवकाश है। ऐसे में इस माह होने वाली अगली कैबिनेट बैठक में 10वीं-12वीं कक्षा के विद्यार्थियों को परामर्श लेने के लिए स्कूलों में बुलाने का फैसला हो सकता है।

मंत्रिमंडल की बैठक में कॉलेजों की परीक्षाओं को लेकर अन्य राज्यों की ओर से अपनाए जा रहे मॉडलों को लेकर विस्तार से चर्चा हुई। दिल्ली विश्वविद्यालय ओपन बुक पैट्रन पर परीक्षाएं ले रहा है। कुछ विश्वविद्यालय ऑनलाइन परीक्षाएं भी आयोजित कर रहे हैं।

हिमाचल में इंटरनेट कनेक्टिविटी की समस्या के चलते ऑनलाइन परीक्षाएं करवाने का फैसला नहीं हुआ। ओपन बुक पैट्रन और ऑफलाइन परीक्षाओं को लेकर भी बैठक में आम सहमति नहीं बनी। मंत्रिमंडल ने इस मामले को लेकर चर्चा करने के बाद ही प्रथम और द्वितीय वर्ष के विद्यार्थियों को प्रमोट करने का फैसला लिया। उधर, 30 जून तक प्रदेश के करीब आठ हजार शिक्षकों ने वैक्सीन नहीं लगाई है। अब आने वाले दिनों में इन शिक्षकों का टीकाकरण करवाने पर शिक्षा विभाग का फोकस रहेगा। स्कूलों में कुल 76187 शिक्षकों में से 68152 को वैक्सीन लग चुकी है। कुल 89.45 फीसदी शिक्षकों को अभी वैक्सीन नहीं लगी है। कोचिंग संस्थानों में 18 वर्ष से कम आयु के विद्यार्थियों के आने के चलते इन्हें अभी खोलने का फैसला नहीं हुआ है। स्कूल खोलने के फैसले के साथ ही इस संदर्भ में विचार किया जाएगा।

error: Content is protected !!