हिमाचल प्रदेश सरकार ने कोविड फण्ड के 135 करोड़ में से खर्च किए 80 करोड़


हिमाचल प्रदेश स्टेट डिजास्टर रिलीफ फंड से सरकार ने अब तक कोरोना को हराने के लिए 80 करोड़ 21 लाख 18 हजार 520 रुपए का खर्च किया है। सरकार के विभिन्न विभागों को इस पैसे की जरूरत थी, जिसका उपयोग कोविड से रोकथाम पर किया गया है। सरकार को इस रिलीफ फंड में अब तक 135 करोड़ 47 लाख 98 हजार 277 रुपए की राशि मिली है जो विभिन्न माध्यमों से एकत्र की गई है। इसमें सरकारी क्षेत्र के हर छोटे-बड़े वर्ग की सैलरी काटकर पैसा जुटाया गया, तो राजनेताओं ने भी इसमें मदद की, वहीं निजी क्षेत्र भी बढ़-चढ़ कर सरकार की इस फंड में मदद कर रहा है, जिससे यहां पर कोविड रोकथाम के प्रबंध किए जा सके हैं।

जिस तरह से कोरोना की दूसरी लहर ने अपना कहर बरपाया है, उसमें रोकथाम के लिए और ज्यादा धन की जरूरत यहां पर महसूस की जा रही है। कई निजी कंपनियों ने पैसा देने के बजाय दूसरे सामाजिक दायित्वों की पूर्ति करने के लिए कई तरह की वस्तुएं दीं, जिसमें अस्पतालों में जरूरी उपकरण सरकार को दिए गए। स्टेट डिजास्टर रिलीफ फंड में सरकार के पास वर्तमान में 56 करोड़ 26 लाख 79 हजार 757 रुपए की राशि बची है, जो जानकारी सरकारी आंकड़ों में है, उसके अनुसार यहां पर स्वास्थ्य विभाग को अब तक 26 करोड़ 56 लाख 79 हजार 138 रुपए दिए गए हैं, जिनसे अस्पतालों में कई सारे प्रबंध किए गए हैं।

इसी तरह से नेशनल हैल्थ मिशन को कोविड फंड से नौ करोड़ 55 लाख 68 हजार रुपए दिए गए,वहीं पुलिस विभाग को 14 करोड़ 38 लाख 83 हजार 398 रुपए की राशि प्रदान की गई है। गृह रक्षा विभाग को अब तक चार करोड़ रुपए की राशि दी गई है। परिवहन निदेशक के कार्यालय को इस फंड से 50 लाख रुपए की राशि प्रदान की जा चुकी है। इसके अलावा चीफ फायर ऑफिसर, निदेशक डब्ल्यूसीडी, निदेशक आयुर्वेद, निदेशक शहरी विकास को कोविड रोकथाम के लिए धनराशि दी गई है। (एचडीएम)

किसे, कितनी राशि दी

स्वास्थ्य विभाग 26,56,79,138

एनएचएम 9,55,68,000

पुलिस 14,38,83,398

गृह रक्षा 4 करोड़

परिवहन निदेशक 50 लाख

एचआरटीसी 13,16,10,386

एमसी शिमला 15 करोड़

एमसी धर्मशाला 2 करोड़

निदेशक पशुपालन 2 करोड़

डिवीजनल कमिश्नर शिमला 25 हजार

सचिव सचिवालय 14 लाख

सचिव सामान्य 1,74,314

हिमाचल भवन चंडीगढ़ 10 लाख

हिमाचल भवन दिल्ली 5 लाख

सचिव चुनाव आयोग 14.50 करोड़

डीसी 80,21,18,520

Please Share this news:
error: Content is protected !!