हिमाचल के चार जिलों में आज से रात्रि कर्फ्यू, बिना पास नही मिलेगी एंट्री

प्रदेश के चार जिलों कांगड़ा, सोलन, सिरमौर व ऊना में आज रात से नाइट कफ्यू लागू होगा। इसके साथ ही अन्य राज्यों से आने वाले नागरिकों को ई-पास पोर्टल पर पंजीकरण करवाना जरूरी होगा। बिना पंजीकरण आने वाले लोगों को बैरियर पर ही पंजीकरण के बाद प्रवेश मिलेगा। इसके अलावा आरटीपीसीआर टेस्ट रिपोर्ट भी दिखानी होगी, रिपोर्ट न हाेने की सूरत में घर पर आइसोलेट होना होगा।

पंजाब की सीमा से सटे कंडवाल बैरियर पर प्रवेश करने वाले लोगों की मॉनिटरिंग के लिए गत मध्य रात्रि से पुलिस तथा प्रशासन द्वारा नाका स्थापित कर दिया गया है। नाके पर निगरानी के लिए टीमें गठित की गई है जो ज़िला की सीमा में प्रवेश करने वाले हर व्यक्ति पर विशेष निगरानी रखेंगी।

एसडीएम नूरपुर ने बताया बाहरी राज्यों से ज़िला में प्रवेश करने वाले हर व्यक्ति को कोविड ई-पास सॉफ्टवेयर पर अपना पंजीकरण करवाना अनिवार्य होगा। उन्होंने बताया कि ज़िला में प्रतिदिन रात्रि 10 बजे से सुबह पांच 5 बजे तक लागू नाईट कर्फ्यू के दौरान बॉर्डर पर सामान्य आवाजाही बन्द रहेगी, जबकि आवश्यक सेवाएं यथावत जारी रहेंगी।उन्होंने कहा कि जो भी व्यक्ति हॉटस्पॉट एरिया से ज़िला की सीमा में प्रवेश करता है और उसके पास 72 घंटे पहले की कोविड नेगेटिव रिपोर्ट है तो उसे क्वारंटीन होने में छूट रहेगी।

हिमाचल प्रदेश में कोरोना संक्रमण के मामले लगातार बढ़ते जा रहे हैं। सक्रिय मामले 14 हजार के पार हो गए हैं। प्रदेश में कुल एक्टिव केस 14326 हाे गए हैं। प्रदेश में 1350 कोरोना संक्रमित मरीजों की जान गई है। अब तक 89 हजार लोग कोरोना संक्रमित हो चुके हैं। मुख्यमंत्री जयराम ठाकुर आज दोपहर नेरचौक मेडिकल कॉलेज में कोरोना मरीजों को दी जा रही सुविधाओं का जायजा लेंगे। बताया जा रहा है मुख्यमंत्री जयराम ठाकुर कोरोना संक्रमित मरीजों से मिल सकते हैं। बीते 24 घंटे में 1692 लोग कोरोना संक्रमित पाए गए हैं, जबकि 916 लोग स्वस्थ हुए हैं। 29 मरीजों की मौत हुई है। नेरचौक मेडिकल काॅलेज में रात को हमीरपुर की 67 वर्षीय महिला की मौत हो गयी।

सभी लोग टीकाकरण के लिए आगे आएं

जल शक्ति एवं बागवानी मंत्री महेंद्र सिंह ठाकुर का कहना है कोरोना संक्रमण से बचाव का एकमात्र उपाय टीकाकरण है। पात्र लोगों को वैक्सीन लगाने के लिए किसी प्रकार का इंतजार करने की जरूरत नहीं है। तुरंत नजदीक के टीकाकरण केंद्र पर जाकर पंजीकरण करवाने के बाद कोरोना वैक्सीन लगवानी चाहिए। यदि लोग कोरोना संक्रमण से सुरक्षित रहना चाहते हैं तो उन्हें टीका लगाने के लिए आगे आना चाहिए। कोरोना संक्रमण की दूसरी लहर से बचने का एकमात्र उपाय वैक्सीन लगवाना ही है।

error: Content is protected !!