केंद्र सरकार के इशारे पर नाच रही हिमाचल सरकार; पण्डित, आप मीडिया प्रभारी

भारत सरकार तीनों कृषि बिल तुरन्त वापिस ले। यह कहना है आम आदमी पार्टी के प्रदेश प्रभारी एन के पण्डित का। आम आदमी पार्टी के मीडिया प्रभारी एन के पण्डित ने मंडी से प्रेस को जारी एक बयान में कहा कि हिमाचल सरकार अपना स्टैंड क्लियर करे कि वह किसानो के साथ है या नहीं।

उन्होंने कहा कि अगर हिमाचल सरकार किसानों के मुद्दे पर किसानों के साथ है तो वे केंद्र सरकार के इशारो पर ना नाचकर तुरन्त तीनो कृषि बिल्लो को रद्द करवाने कि सिपारिश करे। पण्डित ने कहा कि आखिर केंद्र सरकार क्यों किसानो पर अत्याचार करने पर तुली हुई है। पण्डित ने केंद्र सरकार कि घेराबंदी करते हुए कहा कि सर्दी के इस मौसम में किसानो के ऊपर आंसू गैस छोड़ना व पानी कि बौछार करना क्या सही है। उन्होंने कहा कि क्या किसानों पर अत्याचार करके इस तरीके से केंद्र सरकार उनकी आय दुगना करना चाहती है।

आम आदमी पार्टी के मीडिया प्रभारी ने कहा कि भाजपा शुरू से ही किसान विरोधी रही है, इसलिए अब देश के अनदाता किसान भाजपा सरकार के झांसे में आने वाले नहीं है। पण्डित ने कहा कि केंद्र सरकार बार बार यह कहना बंद करे कि हम किसानो के खाते में 2000 रूपए डाल रहे है। उन्होंने केंद्र सरकार पर आरोप जड़ते हुए कहा कि यह राशि तो कुछ ही किसानो के खातों में आ रही है। उन्होंने कहा कि एक तरफ केंद्र कि भाजपा सरकार 2000 रूपए किसानो के खातों में डाल रही है, तो दूसरी तरफ केंद्र सरकार पेट्रोल व डीज़ल के रोज दाम बढ़ाकर किसानो की कमर तोड़ रही है। इसके विपरीत बैंको में केंद्र सरकार द्वारा विभिन प्रकार के बैंक चार्जेज लगाकर देश के किसानो व अन्य लोगो को सरेआम दिन दिहाड़े लूट रही है।

पण्डित ने केंद्र सरकार से जानना चाहा है कि क्या केंद्र सरकार ने राष्ट्रीय बैंको को डकैती का लाइसेंस दे दिया है कि वह आम जनता को लूटते रहे। आम आदमी पार्टी के मीडिया प्रभारी एन के पण्डित ने कहा कि आम आदमी पार्टी देश के किसानो के साथ खड़ी है व आगे भी खड़ी रहेगी। पण्डित ने कहा कि दिल्ली के मुख्यामंत्री अरविन्द केजरीवाल शीघ्र ही सिंघु बॉर्डर पर किसानो के बीच जाकर उनकी समस्याओं को समझ कर किसानो की समस्या हल करने का आम आदमी पार्टी देश कि मोदी सरकार पर दवाब बनाएगी।

Please Share this news:
error: Content is protected !!