मासूम छात्रा के साथ दुष्कर्म मामले में भाजपा के पूर्व महामंत्री को उम्रकैद और पांच लाख जुर्माने की सजा

हमीरपुर। शहर में करीब ढाई वर्ष पूर्व एक विद्यालय में कोचिंग पढ़ने गई सात वर्षीय मासूम के साथ स्कूल प्रबंधक व भाजपा के पूर्व महामंत्री ने दुष्कर्म किया। इस मामले में शुक्रवार को विशेष न्यायाधीश पोक्सो एक्ट प्रवीण कुमार सोनकर की अदालत में सुनवाई हुई। अदालत ने आरोपी को आजीवन कारावास की सजा सुनाई। साथ ही पांच लाख रुपये का अर्थदंड लगाया है।

शासकीय अधिवक्ता रुद्र प्रताप सिंह ने बताया कि भाजपा के पूर्व जिला महामंत्री व पूर्व एक कॉलेज प्रबंधन के आजीवन सदस्य गयादीन प्रजापति शहर में एक निजी विद्यालय संचालित करते थे। वह स्कूल में अवकाश के बाद बच्चों को कोचिंग भी पढ़ाते थे। बीते 28 फरवरी 2019 को स्कूल की छुट्टी होने के बाद जब छात्र-छात्राएं घर चले गए, तभी कोचिंग पढ़ने गई स्कूल की सात साल की मासूम के साथ प्रबंधक ने कमरे में ले जाकर दुष्कर्म किया।

इस बीच छात्रा की मां के पहुंचने पर उसे छोड़ दिया। घर में पहुंचकर छात्रा ने मां को घटना के विषय में सारी जानकारी दी। महिला ने देर शाम मजदूरी कर घर लौटे पति को घटना से अवगत कराया। जिस पर पीड़ित पिता ने पुत्री को शहर कोतवाली ले जाकर प्रबंधक गयादीन प्रजापति के खिलाफ दुष्कर्म की तहरीर दी।

पुलिस ने दो मार्च को आरोपी प्रबंधक के खिलाफ दुष्कर्म सहित अन्य धाराओं में मुकदमा दर्जकर जांच शुरू की। इस मामले में सुनवाई करते हुए विशेष न्यायाधीश पोक्सो एक्ट प्रवीण कुमार सोनकर ने आरोपी प्रबंधक को दोषी पाया। शुक्रवार को विशेष न्यायाधीश ने उसे आजीवन कारावास की सजा सुनाते हुए पांच लाख का अर्थदंड भी लगाया है।

करीब 17 वर्ष पूर्व थे भाजपा महामंत्री
भाजपा जिलाध्यक्ष बृजकिशोर गुप्ता ने बताया कि करीब 17 वर्ष पूर्व गयादीन प्रजापति जिला महामंत्री रहा है। कहा कि जबसे इन पर दुष्कर्म का मामला दर्ज हुआ। उसे पार्टी के साथ अनुसांगिक संगठन से अलग कर दिया गया है।

इस समाचार पर अपनी प्रतिक्रिया जरूर दें:

error: Content is protected !!