आज शिमला में सेब कीमतों पर सरकार और अडानी को घेरेंगे किसान नेता राकेश टिकैत

कृषि कानूनों के विरोध में भारतीय किसान यूनियन (टिकैत) के प्रमुख राकेश टिकैत शनिवार को शिमला आ रहे हैं. वह सेब के गिरते दामों और अडाणी की कंपनी द्वारा कीमतें कम करने पर सरकार को घेरेंगे.

दोपहर बारह बजे टिकैत प्रेस क्लब शिमला में पत्रकार वार्ता करेंगे. टिकैत इससे पहले, तीन बार हिमाचल आ चुके हैं. इससे पहले भी बागवानों से लूट के मामलों को उठा चुके हैं. उम्मीद है कि कीमते लगातार गिरने से अब किसान आंदोलन को हिमाचल के सेब बागवानों का समर्थन मिल सकता है. इससे पहले, शनिवार सुबह राकेश टिकैत सोलन फल मंडी आएँगे और किसानों के साथ बैठक होगी.

पहले भी उठाया था मुद्दा

अप्रैल में एक वीडियो जारी कर भी राकेश टिकैत ने सेब बागवानों की समस्याओं को राष्ट्रीय स्तर पर उठाया था. उस समय सेब की फ्लावरिंग और सेटिंग के समय हुए नुकसान को लेकर बात कही थी. अब सेब के दामों में भारी गिरावट आई है. इसके बाद गुरुवार को शहरी विकास मंत्री सुरेश भारद्वाज अधिकारियों की बैठक लेने के दूसरे दिन व्यवस्थाओं का जायजा लेने मैदान में उतरे थे और ठियोग की पराला मंडी पहुंचे थे.

सीएम ने दिया था बयान

सेब के गिरते दामों पर कांग्रेस जयराम सरकार को घेर रही है तो मुख्यमंत्री कह रहे हैं कि सरकार बेहद चिंतित है, हो सके तो बागवान थोड़े दिनों के लिए मार्केट में सेब न भेजें. उम्मीद है कुछ दिनों बाद मार्केट चढ़ जाए. इस साल हिमाचल के सेब बागवानों पर मौसम से लेकर महंगाई तक कई तरह की मार पड़ी है. पहले बेमौसम बारिश, बर्फबारी और ओलावृष्टि ने फसल को नुकसान पहुंचाया. उसके बाद स्प्रे की दवाइयों पर मिलने वाली सब्सिडी सरकार ने खत्म कर दी. एंटी हेल नेट को लेकर भी राहत नहीं मिली, खाद से लेकर दिहाड़ी और ढुलाई तक सब कुछ महंगा हो गया.

error: Content is protected !!