पूर्व विधायक राम सिंह का सादगी से हुआ अंतिम संस्कार, सीढ़ियों से गिर कर हुई थी मौत

जोगेंद्रनगर के पूर्व विधायक राम सिंह का आज रविवार को गांव जयूणी (लांगणा) में अंतिम संस्कार कर दिया गया। कोविड की पाबंदियों के कारण अधिक लोग अंतिम यात्रा में शामिल नहीं हो पाए। शनिवार देर शाम सीढ़‍ियों से गिरने से उनका निधन हो गया था। वह 91 साल के थे। परिवार से मिली जानकारी के अनुसार घर में सीढि़यों पर अनियंत्रित होकर गिर पड़े थे, इससे पहले कि उन्हें अस्पताल पहुंचाया जाता उन्‍होंने घर पर ही दम तोड़ दिया।

1972 से 77 तक उस समय की चोंतड़ा विधानसभा क्षेत्र से आजाद विधायक बने राम सिंह मौजूदा समय में पूर्व विधायक ऐसोसिएशन के अधयक्ष भी थे।

प्रदेश की राजधानी शिमला में माल रोड पर व्‍हाइट वे ड्राइ‍क्‍लींग का भी कारोबार देख रहे थे। शनिवार देर शाम घर पर अचानक सीढि़यों से अनियंत्रित होकर गिर पड़े, सिर पर आई गहरी चोट से उनका निधन हो गया।

चिता को मुखाग्‍न‍ि बेटे नरेश चंद्रजीत और लोकेश ने दी। व्यास नदी के नजदीक कांडापतन में अंतिम संस्कार किया गया। इस दौरान पोते जयंत, कार्तिक, पंकज और अमन दीप भी मौजूद रहे।

पूर्व विधायक की अचानक मौत की खबर से समूचे विधानसभा क्षेत्र में शोक का माहौल है। जोगेंद्रनगर के विधायक प्रकाश राणा, पूर्व मंत्री गुलाब सिंह ठाकुर, मंडल भाजपा अध्यक्ष पंकज जम्‍वाल पूर्व विधायक ठाकुर सुरेंद्र पाल, ब्‍लॉक कांग्रेस अध्यक्ष डाक्‍टर राकेश धरवाल, प्रदेश कांग्रेस सचिव जीवन ठाकुर, राकेश चौहान, रंजन शर्मा, रोटरी क्लब और प्रेस क्लब जोगेंद्रनगर ने गहरा शोक व्यक्त किया है।

error: Content is protected !!