बरसात में पानी उबाल कर पिएं टायफाइड, डायरिया व अन्य जल जनित बिमारियां से बचे रहेंगे- डाक्टर तिलक शर्मा

गोहर, सुभाग सचदेवा। बरसात में प्राकृतिक संसाधनों बावड़ियों व नलकों में उपलब्ध पेयजल में कई प्रकार के किटाणु आ जाते है। न चाहते हुए भी किटाणु युक्त पानी पीने से हम कई प्रकार की जलजनित बिमारियां जैसे डायरिया टायफायड उल्टी दस्त पीलिया सहित कई गंभीर बिमारियों की चपेट में आ जाते हैं। सेवा निवृत्त आयुर्वेदिक चिकित्सक डाक्टर तिलक राज शर्मा ने बताया कि वैसे तो हमें हमेशा साफ सुथरा रहन सहन खान पान का खास ख्याल रखना चाहिए।

मगर बरसात के दिनों में अक्सर दूषित पेयजल पीने से हमें की प्रकार की जलजनित बिमारियां घेर लेती हैं। हमें हमेशा स्वच्छ पानी पीना चाहिए मगर बरसात में खास तौर पर पानी उबाल कर ही पीना चाहिए। उबाल कर पानी पीने से हमारे शरीर में बिमारी से लड़ने के लिए प्रतिरोधक शक्ति में इजाफा होता है और इम्युनिटी बढ़ती है। डाक्टर तिलक राज शर्मा ने सभी से अनुरोध किया है कि स्वच्छ पानी के साथ साथ नशे से भी दूर रहे साफ सफाई का ख्याल रखें शाकाहारी भोजन खाएं और हल्की एक्सरसाइज करें मास्क लगाएं समाजिक दुरी का ध्यान रखें जिससे कोरोना जैसी भयंकर बिमारी से भी बचाव होता है।

error: Content is protected !!