डाॅ रामस्वरूप और डाॅ विश्वराज़ ने बचाई बेजुबान गाय की जान, किया सफ़ल ऑप्रेशन- सुषमा ठाकुर

राजपुरा पंचायत के राजपुरा में सुषमा ठाकुर ने पत्रकार वार्ता में कहा कि एक गाय प्रसूति के लिए तडफ़ रही थी, क्योंकि गाय गिर गई थी और कई दिनों से बैठी हुई थी। गाय प्रसुती के लिए तडफ़ रही थी और डाॅ विश्वराज़ ने पशु विभाग के उच्च अधिकारीयों से संपर्क कर बताया कि एक गाय प्रसूति के लिए तड़प रही है। आप सहायता करें और जल्दी से टीम पहुंची।

डाॅ राम स्वरूप व कोठीपुरा के डाॅ विश्वराज़ ने बिना देरी किए गाय को बचाने के लिए और गाय की हालत देख इन्होंने ऑप्रेशन का फैसला किया और अपने तन मन से ऑप्रेशन करना शुरू कर दिया। सारा दिन से कल शाम रात के ऑपरेशन के लिए 8 बज चुके थे परन्तु डाॅकटरों की टीम ने सफल ऑप्रेशन करके सफलता हासिल की। गाय को ऑपरेशन से बचा लिया। परन्तु गाय के बच्चे को नहीं बचा सके, क्योंकि गाय के गिरने से बच्चे की एक साईड हड्डी टूट गई थी। जिससे बच्चे को बाहर निकालना मुश्किल था परन्तु ऑपरेशन से गाय को बचा लिया गया यह भी बहुत बड़ी कामयाबी है।

कोरोना महामारी के संकट में ऐसे काम करना जोखिम भरा था परन्तु आज़ बहुत से लोग ऐसे हैं जो अपने दायित्व का निर्वहन करते हैं। जिससे बहुत से लोगों का जान माल होने से बचाते हैं। ऐसे लोगों से सीख़ लेनी चाहिए। डाॅ रामस्वरूप डाॅ विश्वराज़ व उनकी टीम बधाई की पात्र हैं।
डॉ रामस्वरूप, डॉ विश्वराज, कुमारी कान्ता (Vph), सुषमा ठाकुर (गाय की मालकिन) और महिन्दर धीमान सबने साथ दिया बधाई के पात्र हैं

error: Content is protected !!