डाक्टरों की क्वारंटीन न करने का फैसला गलत, चिकित्सकों ने सरकार से मांगी यह गारंटी

मंडी डाक्टरों को कोविड ड्यूटी के बाद क्वारंटीन न करने का सरकार का फैसला गलत है। रेजिडेंट डाक्टर्स एसोसिएशन मेडिकल कालेज नेरचौक सरकार के इस निर्णय की निंदा करती है। आरडीए नेरचौक के अध्यक्ष डा. विशाल जम्वाल, महासचिव डा. रोशन ठाकुर का कहना है कि कोविड-19 महामारी के दौरान प्रदेश भर के अस्पतालों में चिकित्सक अपनी जान की परवाह किए बिना लगातार सेवाएं प्रदान कर रहे हैं।

ऐसे में चिकित्सकों को कोविड ड्यूटी के बाद तय क्वारंटीन में न रखने का फैसला निंदनीय है। उनका कहना है कि इस फैसले को डाक्टरों पर थोपने से पहले सरकार इस बात की गांरटी भी दे कि कोविड वैक्सीन लगने के बाद कोई भी डॉक्टर कोरोना पॉजिटिव नहीं होंगे। यदि सरकार इस बात की गारंटी नहीं दे सकती तो डाक्टरों को पूर्व की भांति कोरोना ड्यूटी के बाद क्वारंटीन में रहने की व्यवस्था करे।

error: Content is protected !!