महिला डॉक्टर से दुर्व्यवहार पर डॉक्टर एसोसिएशन ने रोष जता कर की सुरक्षा की मांग

सिविल अस्पताल जोगेंद्रनगर में तैनात एक महिला चिकित्सक से दुर्व्यवहार पर चिकित्सक ऐसोसिएशन ने सोमवार को अस्पताल परिसर में रोष प्रकट कर अब पुलिस सुरक्षा की मांग उठाई है। अस्पताल में आए दिन हो रहे चिकित्‍सकों से दुर्व्यवहार के मामलों को देखते हुए स्थानीय पुलिस भी हरकत में आई है ओर अस्पताल में रोजाना पुलिस की पैट्रोलिंग का भरोसा दिलाया है।

सोमवार दोपहर बाद अस्पताल के कोविड टैस्ट केंद्र में पधर निवासी एक युवक ने अपने आप को यू टयूबऱ़़ बताकर कोविड टैस्ट ले रही महिला चिकित्सक को खूब डराया धमकाया ओर विडियो सोशल मीडिया में वायरल करने की धमकी दी। इससे अस्पताल का माहौल गर्मा गया ओर मौके पर पुलिस भी बुलानी पड़ी।

अस्पताल में सौ से अधिक कोविड टैस्ट हो जाने के बाद दोपहर करीब तीन बजे अपनी बारी का इंतजार कर रहा युवक अचानक तैश में आ गया और सीधे कोविड टैस्ट ले रही महिला चिकित्सक से उलझ पड़ा साथ महिला चिकित्सक का विडीयो बनाने और उसे सोशल मीडिया में वायरल करने की धमकी देने लगा जिसकी लिखित शिकायत महिला चिकित्सक ने अस्पताल के एसएमओ की साथ ही अपने साथ हुये दुर्व्यवहार की जानकारी स्थानीय पुलिस को भी दी ।

पुलिस की टीम ने मौके पर पंहुच कर महिला चिकित्सक से दुर्व्यवहार करने वाले युवक हिरासत में लिया ओर जब पुलिस की अगामी कारवाई अमल में लाना शुरू किया तो सिरफिरा युवक को अपनी गलती का ऐहसास हुआ साथ ही महिला चिकित्सक से माफी मांगने लगा। इस महिला चिकित्सक का दिल पसीज आया और निकट भविष्य में ऐसी गलती दोबारा ना दोहराने की हिदायत देकर राहत प्रदान की। हालांकि पुलिस अब भी मामले छानबीन कर रही है।

सिविल अस्पताल में बीते कुछ दिन पहले भी नशे के सेवन में एक अन्य युवक ने अस्पताल के चिकित्सक को विडियो बनाकर डराने धमकाने का प्रयास किया था। कोविड वैक्‍सीनेशन और कोविड टैस्ट केंद्र में तैनात चिकित्सक ओर स्टाफ के साथ दुर्व्यवहार के मामलों से तंग आकर अस्पताल के चिकित्सक भडक उठे और पुलिस सुरक्षा की मांग करते हुये ऐसे सिरफिरे युवको पर कानूनी कार्रवाई की स्थानीय पुलिस ओर अस्पताल प्रबंधन से की है। हांलाकि अस्पताल में निजी सुरक्षा कर्मियों की तैनाती अरसे से कर रखी है।

डा रोशन लाल कोंडल, एस एम ओ सिविल अस्पताल जोगेंद्रनगर ने कहा कि अस्पताल की महिला चिकित्सक से दुर्व्यवहार पर अस्पताल प्रशासन ओर पुलिस ने नियम अनुसार कारवाई अमल में लाकर सिरफिरे युवक को सबक सिखाया है। निकट भविष्य में दोबारा ऐसी घटना ना घटे इसलिए अस्पताल परिसर में पुलिस सुरक्षा की मांग उठाई जा रही है।

प्रोवैशनर डीएसपी एवं थाना प्रभारी, पुलिस स्टेशन जोगेंद्रनगर पधर निवासी एक युवक का अपनी बारी के इंतज़ार में अस्पताल की महिला चिकित्सक से विवाद की सूचना मिलते ही पुलिस की टीम ने अस्पताल पंहुच कर आवश्यक कारवाई अमल में लाना चाही लेकिन दो पक्षो में लिखित समझौते के चलते पुलिस थाने में मामला दर्ज नहीं हो पाया है। लेकिन मामले की जांच अभी भी जारी है। रही बात अस्पताल में पुलिस सुरक्षा की तो रोजाना पुलिस की टीम पैट्रोलिंग कर हर गतिविधियों पर नजर बनाया हुए है।

error: Content is protected !!