मोबाइल टावर के नाम पर ठगी करने वाला धीरज गिरफ्तार, पुलिस ने बरामद किए 80 हजार, 7 मोबाइल और 11 फर्जी सिम

थाना साईबर क्राइम दक्षिणी मंडल रेवाड़ी पुलिस ने मोबाइल टावर लगाने के नाम पर धोखाधड़ी करके पैसे ऐठने के मामले में कार्यवाही करते हुए एक आरोपी को गिरफ्तार करके उसके कब्जा से 80 हजार 500 रूपए, 7 मोबाइल फोन, 11 फर्जी सिमकार्ड, 2 एटीएम बरामद किये है।

गिरफ्तार किए गए आरोपी की पहचान हिमाचल प्रदेश के पोंटासाहिब निवासी धीरज के रूप में हुई है। आज पुलिस लाइन स्थित थाना साईबर क्राइम दक्षिणी मंडल रेवाड़ी में आयोजित पत्रकार वार्ता में साईबर थाना प्रबंधक निरीक्षक ऋषिकांत ने उक्त वारदात का खुलासा करते हुए बतलाया कि बीते मंगलवार को शिकायतकर्ता बलजीत सिंह पुत्र ओमप्रकाश निवासी गाँव रोझुवास ने पुलिस में शिकायत दी थी कि मेरे पास एक कॉल आया था। जिसमे उसने अपना नाम निखिल कुमार बताया और कहा कि मैं जियो कम्पनी से हूं। उसने मुझे मोबाइल टावर लगाने की स्कीम के बारे में बताते हुए कहा कि इसका टोटल खर्चा 50 हजार रूपए आएगा। इसके बाद निखिल कुमार ने गत 16 जून को मेरे से 1750 रुपये फार्म फीस फोन पे के द्वारा मोबाइल पर ले लिये।

इसके बाद निखिल के बॉस राजेश चौधरी का फोन आया ओर मुझसे एनओसी सर्टिफिकेट फिस 23500/- फोन पे के द्वारा 17 जून को ले ली। इसके बाद 18 जून को राजेश चौधरी का फिर से फोन आया और उन्होने मेरे से पीटीएफ फीस के 19800 रुपये फोन पे के द्वारा ले लिए। इसके बाद 19 जून को राजेश चौधरी का फिर से फोन आया और उसने मुझे टीडीएस फीस के 30000 रुपये फोन पे के द्वारा ले लिये। इसके बाद 21 जून को राजेश चौधरी का फिर से फोन आया और उन्होने मेरे से हरियाणा गवर्मेंट टैक्स के 37500 रुपये फोन पे के द्वारा फिर से जमा करवा लिए। इस प्रकार मैंने कुल 1 लाख 12 हजार 550 रुपये फोन पे के द्वारा जमा करवा दी। पुलिस ने शिकायतकर्ता की शिकायत पर मामला दर्ज करके जांच शुरू कर दी थी।

जाँच के दौरान साईबर थाना पुलिस टीम ने पीड़ित द्वारा जिस नंबर पर पैसे ट्रान्सफर किये गए थे उस नंबर के आधार पर डिटेल निकाली। इसी डिटेल के आधार पर पुलिस ने आरोपी का पता लगाकर गुरुवार को आरोपी धीरज पुत्र कुंदनलाल निवासी पोंटा साहिब हिमाचल प्रदेश को गिरफ्तार कर लिया है। आरोपी के कब्जा से पुलिस ने 80 हजार 500 रूपए, 7 मोबाइल फोन, 11 फर्जी सिमकार्ड, 2 एटीएम बरामद किये है। बरामद किये गए 7 मोबाइल फोन में से एक फोन वो भी है जो इस वारदात में किया गया था। थाना प्रबंधक ने बतलाया कि आरोपी ने पूछताछ में हरियाणा, पंजाब तथा मध्यप्रदेश में भी इसी प्रकार लाखों रुपयों की साईबर धोखाधड़ी की वारदात करने का खुलासा किया है। आरोपी को आज अदालत में पेश करके दो दिन के पुलिस रिमाण्ड पर लिया गया है।

error: Content is protected !!