हिमाचल प्रदेश में 68 केंद्रों पर होगी मतगणना, 10 हजार कर्मचारी देंगे ड्यूटी

0
20

शिमला: हिमाचल में 68 विधानसभा क्षेत्रों के लिए 8 दिसंबर को मतगणना होगी. इन चुनावों की मतगणना के लिए निवार्चन आयोग ने मतगणना केंद्र बना दिए गए हैं. राज्य में 59 जगहों पर 68 विधानसभा क्षेत्रों के लिए अलग-अलग मतगणना केंद्र बनाए गए हैं. मतगणना केंद्रों को केंद्रीय चुनाव आयोग की अनुमति के बाद बनाया गया है. निवार्चन मतगणना डयूटी में करीब 10 हजार कर्मचारी लगाएगा. इन कर्मचारियों को दो चरणों में प्रशिक्षण भी दिया जाएगा. (vote counting in Himachal).

हिमाचल में विधानसभा चुनावों की मतगणना के लिए तैयारियां पूरी कर दी गई है. सभी मतगणना केंद्रों पर 8 दिसंबर को सुबह 8.00 बजे मतगणना शुरू होगी. पहले आठ बजे पोस्टल बैलेट की गणना शुरू होगी. ईवीएम के माध्यम से डाले गए मतों की गिनती सुबह 8.30 बजे शुरू की जा सकेगी. स्ट्रांग रूम को लॉगबुक में एंट्री करने के बाद रिटर्निंग अधिकारी अथवा सहायक रिटर्निंग अधिकारी, उम्मीदवार, चुनाव एजेंट और चुनाव आयोग के ऑब्जर्वर की उपस्थिति में खोला जाएगा. इस पूरी प्रक्रिया कूी वीडियोग्राफी भी की जाएगी.हिमाचल में 59 जगहों पर बनाए गए 68 मतगणना केंद्र

एक मतगणना केंद्र में लगाए जा सकेंगे 14 टेबल: वोटों की गणना के लिए हर मतदान केंद्र (मतगणना हाल) में अधिकतम 14 टेबल लगााए जा सकेंगे. हालांकि, अगर किसी मतगणना केंद्र में स्थान की कमी होगी तो 14 से कम टेबल भी लगाए जा सकते हैं. मतगणना के लिए लगाए गए 14 टेबल में से एक टेबल पर रिटर्निंग अधिकारी का होगा और बाकी 13 टेबलों पर एक साथ मतगणना की जाएगी. सभी टेबलों पर एक साथ मतगणना का कार्य शुरू होगा. प्रत्येक टेबल पर एक काउंटिंग सुपरवाइजर, एक काउंटिंग एजेंट और एक माइक्रो ऑब्जर्वर होगा. इसके अलावा प्रत्याशी अपना एजेंट नियुक्त कर सकते हैं. प्रत्येक टेबल पर एक एजेंट नियुक्त किया जा सकेगा, इनको रिटर्निंग आफिसर पास जारी करेंगे.

10 हजार कर्मचारी मतगणना की डयूटी में रहेंगे तैनात: 8 दिसंबर को मतगणना की ड्यूटी में करीब 10 हजार कर्मचारी तैनात रहेंगे. इनमें सीधे काउंटिंग से जुड़े कर्मचारियों के अलावा अन्य तरह के मतगणना संबंधी कार्य शामिल हैं. मतगणना ड्यूटी पर तैनात किए जाने वाले कर्मचारियों के लिए मतगणना का पहला का पूर्वाभ्यास प्रशिक्षण ईवीएम के माध्यम से 2 या 3 दिसंबर को किया जाएगा. दूसरा पूर्वाभ्यास मतगणना के एक दिन पहले यानी 7 दिसंबर को होगा. प्रशिक्षण के लिए प्रयोग होने वाली ईवीएम की क्रम संख्या की जानकारी उम्मीदवारों को भी दी जाएगी.

राज्य में 59 जगहों पर 68 मतगणना केंद्र स्थापित किए हैं जो कि इस प्रकार से हैं…

जिला चंबा में 2 जगह बनाए गए 5 मतगणना केंद्र

कांगड़ा में 13 जगह बनाए गए 15 मतगणना केंद्र

कुल्लू में 5 जगह बनाए गए 5 मतगणना केंद्र

मंडी में 10 जगह बनाए गए 10 मतगणना केंद्र

हमीरपुर में 5 जगहों पर बनाए गए 5 मतगणना केंद्र

ऊना में 3 जगहों पर बनाए गए 5 मतगणना केंद्र

बिलासपुर में 3 जगहों पर बनाए गए 4 मतगणना केंद्र

सोलन में 4 जगहों पर बनाए गए 5 मतगणना केंद्र

सिरमौर में 5 जगहों पर बनाए गए 5 मतगणना केंद्र

शिमला में 8 जगहों पर बनाए गए 8 मतगणना केंद्र

किन्नौर में 1 जगह बनाया गया 1 मतगणना केंद्र

समाचार पर आपकी राय: