अनाधिकृत मीडिया चैनल हिमाचल प्लस न्यूज़ के खिलाफ सार्वजनिक रूप से बदनाम करने पर कार्यवाही की मांग

हिमाचल में भ्रष्टाचार कितना बढ़ चुका है, इस बात का पता यही से लग जाता है कि कांगड़ा में राइट फाउंडेशन के जिला अध्यक्ष ने आरटीआई मांग कर जाली बीपीएल परिवारों के खिलाफ आवाज उठाई तो उनको अनाधिकृत मीडिया चैनल हिमाचल प्लस न्यूज़ ने बदनाम करना शुरू कर दिया। जानकारी के मुताबिक राइट फाउंडेशन के जिला अध्यक्ष रोहित कुमार ने पिछले दिनों आरटीआई से जानकारी जुटा कर मुख्य सचिव हिमाचल प्रदेश को शिकायत भेजी थी और मांग की थी कि झूठी जानकारी देकर आईआरडीपी में शामिल हुए परिवारों को बाहर किया जाए। लेकिन यह बात हिमाचल प्लस न्यूज़ नाम के अनाधिकृत मीडिया चैनल को हजम नही हुई और उसने राइट फाउंडेशन के जिला अध्यक्ष के खिलाफ न्यूज़ चला दी। उसने एक स्थानीय व्यक्ति के साथ मिलकर रोहित कुमार के खिलाफ शिकायत भी दर्ज करवाई है।

जानकारी मिली है कि जिस व्यक्ति ने शिकायत करवाई है। वह व्यक्ति संपन्न घर से है, लेकिन फिर भी आईआरडीपी में है। जबकि उस व्यक्ति की मां खुद वार्ड सदस्य है। रोहित कुमार ने इस मामले में उपायुक्त कांगड़ा को मेल के माध्यम से शिकायत भेजी है और कहा है कि यह हिमाचल प्लस न्यूज़ मीडिया चैनल और संपन्न परिवार का व्यक्ति उनके खिलाफ षड्यंत्र रच कर उनको झूठे मुकदमे में फंसना चाहता है और सार्वजनिक रूप से बदनाम कर रहे है। जबकि रोहित कुमार पिछले तीन सालों से आम जनता के हित में आवाज उठा रहे है तथा अब तक सैकड़ों अत्याचारों, प्रताड़ना और अपराधिक मुकदमों में कई अपराधियों को जेल पहुंचा चुके है।

रोहित कुमार ने उपायुक्त कांगड़ा से मांग की है कि हिमाचल प्लस न्यूज़ और संबंधित स्थानीय व्यक्ति के खिलाफ कड़ी कानूनी कार्यवाही की जाए। ताकि भविष्य में किसी समाजसेवक के खिलाफ इस तरह का षड्यंत्र ना हो सके। जो हिमाचल में अपराध, भ्रष्टाचार और अन्याय के खिलाफ बुलंद कर रहे है। इस मामले में हमारी टीम में हिमाचल प्लस न्यूज़ के मालिक से बात करनी चाहिए लेकिन उनका नंबर बंद था, जिसके चलते उनका पक्ष फिलहाल उपलब्ध नही हो पाया है।

error: Content is protected !!