हिमाचल शिक्षा निदेशालय में 265 करोड़ का छात्रवृति घोटाला, सीबीआई ने तलब किया रिकॉर्ड

265 करोड़ रुपये के बहुचर्चित छात्रवृत्ति घोटाले में सीबीआई ने शिक्षा निदेशालय से रिकॉर्ड तलब कर लिया है। सीबीआई ने करीब 300 विद्यार्थियों की जानकारी मांगी है। जांच एजेंसी को इस रिकॉर्ड को एचपीई-पास से मिले रिकॉर्ड से सत्यापित करना है।

निदेशालय ने रिकॉर्ड जुटाना शुरू कर दिया है। इसे जल्द ही जांच एजेंसी को सौंपा जाएगा। सूत्रों के अनुसार मामले से जुड़े संस्थानों के प्रबंधकों और बैंकों के अफसरों को जल्द ही पूछताछ के लिए तलब किया जा रहा है।

हालांकि शिक्षा निदेशालयों के छात्रवृत्ति घोटाले से जुड़ी शाखा के तत्कालीन और वर्तमान के अधिकारियों और कर्मचारियों को समय-समय पर सीबीआई के शिमला कार्यालय में पूछताछ और मामले से जुड़े तथ्यों की पड़ताल के लिए बुलाया जा रहा है। उल्लेखनीय है कि हाल ही में छात्रवृत्ति घोटाले की जांच में तेजी लाने के लिए सीबीआई ने 16 संस्थानों की एक साथ जांच करने का फैसला लिया है। इसके लिए चार टीमों का गठन किया गया है। अभी तक सीबीआई 11 संस्थानों की जांच पूरी कर चुकी है। इसमें सामने आया है कि शिक्षा निदेशालयों के तत्कालीन अधिकारियों, कर्मचारियों और बैंकों की मिलीभगत से इस घोटाले को अंजाम दिया गया है।

error: Content is protected !!