व्यापारियों ने बजाया संघर्ष का बिगुल, बोले 4 घंटे मिले सभी दुकानों को खोलने की छूट

हिमाचल प्रदेश में क्रोना कर्फ्यू के दौरान बाज़ार बन्द होने से व्यापारी आक्रोश में हैं। व्यापारियों ने कर्फ्यू में छूट के दौरान सभी दुकानें खोलने की माँग उठाई है , उन्होंने इसके लिए संघर्ष का ऐलान कर दिया है। ऊना में संयुक्त व्यापार मंडल और व्यापार मंडल ने संयुक्त मोर्चे के तहत एकत्र होकर मंत्रणा की। व्यापारियों ने चेतावनी भरे शब्दों में सभी दुकानों को सुबह 9 से दोपहर एक बजे तक खोलने की इजाजत नहीं दिए जाने पर प्रशासनिक अधिकारियों का घेराव किए जाने और चक्का जाम किए जाने की बात भी कही।

व्यापारियों का दावा है कि अधिकतर के पास किराये की दुकानें हैं और इनका किराया भी बहुत अधिक है लेकिन दुकान के मालिक न तो इस किराये को कम तक नहीं करते है , ऐसे में दुकानदार आर्थिक बोझ के तले दबता जा रहा है । वहीं दुकानों पर काम करने के लिए रखे स्टाफ का वेतन देने के साथ-साथ लोन की किश्ते भी देने का दारोमदार उनके उपर है , यही कारण है कि व्यापारी देनदारियों के बोझ के नीचे दबता जा रहा है । इसीलिए प्रशासन को सभी दुकानों को 4 घंटे तक खोलने की छूट देनी चाहिए दुकानदारों ने कोरोना संकट में सभी के द्वार सहयोग किए जाने का दावा करते हुए , सोशल डिस्टेंसिंग के साथ साथ बिना मास्क के किसी को दुकान के अंदर नहीं आने देने और सैनिटाइजर का दुकानों में प्रबंध किए जाने की बात कही ।

error: Content is protected !!