मंडी में चलती बस से नीचे फेंका बस ड्राइवर, 40 लोगों की सांस में अटकी

मंडी। हिमाचल (Himachal) में निजी ऑपरेटर आए दिन लोगों की जान के साथ खिलवाड़ कर रहे हैं। कभी कोरोना नियमों का उल्लंघन कर सुपर स्प्रेडर बन जाते हैं, तो कभी संकरी रास्तों पर आपाधापी मचा हादसों को न्योता देते हैं।

इसी कड़ी एक और मामला निजी बस ऑपरेटरों (Private Bus Operator) से जुड़ गया है। इस बार निजी बस ऑपरेटरों की निजी लड़ाई में बस सवार करीब 40 लोगों की जान पर शामत आ गई। गनीमत रही कि इस दौरान किसी यात्री को चोटें नहीं आई।

मंडी जिले से गुजरने वाले नेशनल हाईवे-21 चंडीगढ़-मनाली पर दो प्राइवेट बस चालक आपस में उलझ गए। इस बीच दोनों के बीच हाथापाई भी हुई। मारपीट के दौरान एक पक्ष ने बस में बैठे ड्राइवर को घसीट कर नीचे फेंक दिया। बस बैक गियर में होने के कारण पीछे की ओर जाने लगी। हालांकि, दूसरे पक्ष ने झपक कर बस की ड्राइवर वाले गेट से चढ़ कर बस को रोका दिया। इस गहमागहमी के दौरान बस में सवार सभी यात्रियों की सांसें अटक गई थी। वहीं, घटना का यह वीडियो अब तेजी से वायरल हो रहा है। मामला मंडी के नेरचौक का है। घटना के बाद से लोग कार्रवाई का मांग कर रहे हैं।

लोकल बस आपरेटरों की दादागिरी से बस में बैठी हुई सवारियां की जान पर भी खतरा पैदा हो गया। वहीं, स्थानीय लोगों ने प्रशासन व सरकार इन घटनाओं पर अंकुश लगाने की मांग की है। मामले पर एसपी मंडी शालिनी अग्निहोत्री ने कहा कि मामला ध्यान में आया है। नियमानुसार कार्रवाई अमल में लाई जाएगी।

error: Content is protected !!