निवारण केंद्र के बाहर चली गोलियां, कर्मचारियों के पत्थर मार कर अपराधियों को भगाया

ऊना. हिमाचल प्रदेश के ऊना जिले में सीमांत कस्बा संतोषगढ़ के एक नशा निवारण केंद्र के बाहर गोली चलने की घटना सामने आई है. पुलिस ने मामले की सूचना मिलते ही घटनास्थल पर पहुंच कर जांच शुरू कर दी है.

घटना की जानकारी मिलते ही पुलिस अधीक्षक अर्जित सेन ठाकुर और एडिशनल एसपी प्रवीण कुमार धीमान ने भी दल-बल सहित मौके पर पहुंचकर घटना का जायजा लिया.

जानकारी के मुताबिक, नशा निवारण केंद्र के बाहर देर शाम कुछ युवक इकट्ठे हुए थे, जिनमें से कुछ केंद्र के सामने और कुछ केंद्र के पीछे खड़े होकर गाली गलौज कर रहे थे. इसी दौरान पीछे खड़े युवकों में से किसी ने फायर कर डाले. इसके जवाब में नशा निवारण केंद्र के कर्मचारियों ने पथराव करते हुए युवकों को भगा दिया. हालांकि, नशा निवारण केंद्र के संचालक की तरफ से गोली का खोल बरामद किए जाने का दावा किया जा रहा है. दूसरी और पुलिस प्रथम दृष्टया घटना में गोली कांड जैसी किसी भी घटना के होने से इंकार कर रही है, लेकिन पुलिस के आला अधिकारियों ने घटनास्थल पर पहुंचकर मामले की जांच करने की बात कही है.

संतोषगढ़ के वार्ड 3 स्थित एक नशा निवारण केंद्र के बाहर अज्ञात युवकों ने कुछ राउंड फायर किए. गोली चलाने वाले कौन थे, इसको लेकर पुलिस द्वारा जांच शुरू कर दी गई. नशा निवारण केंद्र के संचालक मनोज कुमार का कहना है कि कुछ युवा केंद्र के सामने और कुछ युवा केंद्र की पिछली तरफ आकर हुड़दंग मचा रहे थे. इसी दौरान केंद्र के पीछे खड़े युवकों में से किसी ने कुछ राउंड फायर किए. केंद्र में मौजूद कर्मचारियों को सुरक्षा का भाव हुआ तो उन्होंने भी जवाब में पत्थरबाजी शुरू कर दी. घटना के बाद गोली का एक शेल बरामद कर लिया गया है. उन्होंने बताया कि कभी भी केंद्र में या केंद्र के आसपास ऐसी घटना नहीं हुई है. यह पहली मर्तबा है. घटना की कुछ तस्वीरें केंद्र के सीसीटीवी में कैद हुई है. वहीं साथ ही युवकों द्वारा कुछ गाड़ियों के नंबर भी दर्ज किए गए हैं.

क्या बोले एसपी ऊना
एसपी अर्जित सेन ठाकुर ने कहा कि कस्बा संतोषगढ़ के नशा निवारण केंद्र के आसपास गोली चलने की सूचना कंट्रोल रूम के माध्यम से मिली थी. आरंभिक जांच में इस क्षेत्र में गोली चलने की कोई भी घटना सामने नहीं आई है, लेकिन फिर भी पुलिस सूचना के आधार पर हर चीज को वेरीफाई कर रही है. पुलिस अधीक्षक अर्जित सेन ठाकुर का कहना है कि पुलिस ने घटना की जांच शुरू कर दी है और आगामी कार्रवाई अमल में लाई जा रही.

error: Content is protected !!