भाजपा विधायक के झूठ का पर्दाफाश होते ही तिलमिला रहे हैं भाजपा नेता – ब्लॉक कांग्रेस


ब्लॉक कांग्रेस अध्यक्ष दीपक चौहान, नगर परिषद अध्यक्ष धर्मेंद्र शर्मा,जिला उपाध्यक्ष राजेंद्र राणा,महासचिव करतार राणा, महिला अध्यक्ष निर्मला राणा, ओ बीसी अध्यक्ष प्रकाश चौधरी, अनुसूचित जाति अध्यक्ष बाबूराम, मोहनलाल, रणवीर राणा, वजीर चंद, गौतम सिंह, मुल्तान सिंह, रमेश शर्मा, अजय शर्मा, प्रदीप मनकोटिया, जिला सीमा देवी, प्रवीण राणा, सरिता देवी, निशा देवी, संजय धीमान, अजय कुमार, जिला महामंत्री नीरज शर्मा, युवा अध्यक्ष राज राणा, ने प्रेस के जारी बयान में कहा कि ब्लॉक कांग्रेस कमेटी ने अस्पताल भवन के निर्माण को लेकर पूर्व विधायक संजय रतन के द्वारा स्वीकृत करोड़ों रुपए व अस्पताल के अपग्रेड की सरकारी 2017 की अधिसूचना पूरे तथ्यों सहित जारी की जिससे भाजपा के द्वारा बोले जा रहे सफेद झूठ का पूरी तरह से पर्दाफाश हो चुका है।

उन्होंने कहा कि मीडिया प्रेस बयान में भाजपाइयों ने भी स्वीकार किया है कि ज्वालामुखी अस्पताल को 2014 में 50 बेड का दर्जा व 2 करोड़ 48 लाख रुपए और 2017 में 100 बेड का दर्जा व 10 करोड़ 84 लाख की स्वीकृति कांग्रेस सरकार में पूर्व विधायक संजय रतन ने दिलवाई थी और नए भवन का टेंडर भी करवा दिया गया था। हम माननीय विधायक व उनके भाजपाइयों ये पूछना चाहते है कि उन्हें दिसम्बर 2017 से लेकर 22अगस्त जिसका उन्होंने सन का व्याख्यान नहीं किया है। मगर हम उन्हें बताना चाहते है कि अगस्त 2020 है। इन तीन सालो में क्या भाजपा विधायक विस्तृत रिपोट ही तैयार करवाते रहे व उस समय भवन का काम क्यों रुकवा रखा और वो जनता को ये बताने का कष्ट करें की नय सिरे से इस अस्पताल के भवन को बनाने का टेंडर उनके समय में कब हुआ और तथ्यों सहित जनता को बताएं कि अगर विधायक के पास व भाजपाईयों के पास इस 100 बेड के अस्पताल के बारे में कोई भी सरकारी दस्तावेज है तो उन्हें सार्वजानिक करें। अन्यथा झूठा प्रचार करके लोगो को गुमराह करने का प्रयास ना करें।

भाजपा विधायक ने दिसम्बर 2017 में विधायक बनने के बाद स्वयं इस काम को रोका है और और कहा है कि मैं इस अस्पताल को यहां से बदल कर ही रहूँगा। जोकि भाजपा विधायक का काम रोकने के बारे में व अस्पताल को बदलने के बारे में वक्तव्य समाचार पत्रों में भी प्रकाशित है। लेकिन हम भी उन्हें ये बताना चाहते है कि पूर्व विधायक संजय रतन ने दिन रात मेहनत करके ज्वालामुखी विधानसभा क्षेत्र में स्वास्थ्य सुविधाओ को बेहतर बनाने के लिए करोड़ो रूपये स्वीकृत करवाए है। जिसे हम आपके दुबारा किसी भी क़ीमत पर बर्बाद नहीं करने देंगे। क्योंकि ये पैसा जनता का पैसा है और जनता की सुख सुविधाओ के लिए ही खर्च किया जायेगा। इसलिए हम आपको किसी भी क़ीमत पर ना तो अस्पताल को बदलने देंगे और ना नहीं भवन को क्यों जहाँ के लिए पैसा स्वीकृत हुआ है, भवन बही पर बनेगा। ताकि आम जनमानस को इस अस्पताल की सुविधा मिल सके आप तो पूर्व विधायक दुबारा बनवाए गए कर्मचारियों के आवासीय भवनो को भी ना आवंटित करवाकर खंडर में तब्दील कर रहे है।

उन्होंने कहा कि साढ़े 3वर्षों तक कुंभकरण की नींद सोने वाले भाजपा विधायक आज अपनी नाकामियों को छुपाने के लिए पूरी तरह से झूठ बोल रहे हैं। कांग्रेस पदाधिकारियों ने भाजपा विधायक को आड़े हाथों लेते हुए कहा कि भाजपा विधायक कांग्रेसियों पर बयानबाजी से पहले खुद के गिरेबान में झांक कर देखें कि जब से वह विधायक बने हैं तब से बदले की भावना, विकास में रोड़ा अटकाने और मंत्री पद की लालसा व अपनी ही सरकार को कई बार नाकाम बताने के अलावा कोई कार्य जनहित में नहीं किया है।

कांग्रेस पदाधिकारियों ने कहा के पूर्व विधायक संजय रतन के द्वारा स्वीकृत की गई करोड़ों रुपए योजनाओं को अपना बताकर भाजपा विधायक रमेश धवाला द्वारा अपनी राजनीतिक रोटियां सेंकने का काम कर रहे हैं। उन्होंने कहा कि कांग्रेस के कार्यकर्ता भाजपा विधायक की हर नाकामी का दिन प्रतिदिन तथ्यों सहित पर्दाफाश करते रहेंगे। उन्होंने कहा कि ज्वालामुखी विधानसभा क्षेत्र की जनता अब भाजपा विधायक के लच्छेदार भाषणों और कहावतों से उब चुकी है, क्योंकि ज्वालामुखी विधानसभा क्षेत्र का अगर कोई भी व्यक्ति विधायक से काम की बात करता है तो विधायक उसे कहावते सुनाकर गुमराह करने का कार्य करते हैं।

उन्होंने कहा कि पूर्व विधायक संजय रतन ने जनता फायदे के लिए 25 लाख रुपए की लागत से अस्पताल में अल्ट्रासाउंड मशीन लगाई थी। जिसे आज खराब हुए 1 वर्ष बीत रहा है परंतु भाजपा विधायक इस मशीन को ठीक कराने में पूरी तरह से नाकाम साबित हुए है। इसी से भाजपा विधायक की नाकामी का अंदाजा लगाया जा सकता है।
कांग्रेस पदाधिकारियों ने कहा कि अगर भाजपा विधायक जनता के इतने हितेषी होते तो तो पूर्व विधायक संजय रतन के द्वारा स्वीकृत की योजनाओं व करोड़ों रुपयों के विकास कार्यों को बंद ना करवाकर व विकास में रोड़ा अटकाने का काम नहीं करते। उन्होने कहा कि हम भाजपा विधायक को ये खुला आमंत्रण देते है कि उन्होंने अपने साढ़े 3 बर्षो के कार्यकाल में ज्वालामुखी अस्पताल व ज्वालामुखी विधानसभा क्षेत्र में स्वास्थ्य सुविधायों पर किए गए। कार्यों को सरकारी दस्तावेज के साथ कहीं पर भी हमारे पूर्व विधायक संजय रतन के साथ खुले मंच पर स्थान और समय खुद निर्धारित करके वहस करें। ताकि ज्वालामुखी विधानसभा क्षेत्र की जनता को सचाई का पता चल सके की किसने स्वास्थ सुविधाओ को आगे बढ़ाने का प्रयास किया है और किसने रोकने का ज्वालामुखी अस्पताल का भवन जहां बनाना शुरु हुआ था भी पर बन कर रहेगा।

Please Share this news:
error: Content is protected !!