पोस्टमार्टम में बच्चे के अवशेष में मिले जानवर के बाल, फोरैंसिक लैब भेजे सैंपल

शिमला: डाऊनडेल से बच्चे को उठाने के मामले में अब स्थिति कुछ प्रतिशत साफ होती जा रही है। जंगल से बच्चे के बरामद हुए अवशेषों का पोस्टमार्टम होने पर बड़ा खुलासा हुआ है कि जब विशेषज्ञ अवशेषों का पोस्टमार्टम कर रहे थे तो उस दौरान हड्डियों में जानवर के बाल मिले हैं। इससे अब साफ जाहिर है कि बच्चे को जानवर ही उठाकर ले गया था। जानवर कौन-सा था, इसका असली पता अब फोरैंसिक विशेषज्ञ ही बता पाएंगे। जो पोस्टमार्टम के दौरान जानवर का बाल विशेषज्ञ को अवशेषों की हड्डियों से बरामद हुए हैं उन्हें भी अब जांच के लिए फोरैंसिक लैब जुन्गा भेजा जाएगा।

2 घंटे तक चला पोस्टमार्टम

आईजीएमसी में रविवार को पोस्टमार्टम 2 घंटे तक चला। पहले इस मामले को किसी तांत्रिक से भी जोड़कर देखा जा रहा था लेकिन अभी आईजीएमसी में हुए पोस्टमार्टम की प्राथमिक रिपोर्ट के मुताबिक संबंधित विशेषज्ञ इस बात को सिरे से नकार रहे हैं। विशेषज्ञों से प्राप्त रिपोर्ट के मुताबिक जो अवशेष पाए गए हैं, उनमें बच्चे का सिर और जबड़े की हड्डी देखी गई है। पोस्टमार्टम के माध्यम से प्राथमिक रिपोर्ट तैयार कर दी गई है, जिसमें यह भी जोड़ा गया है कि ये अवशेष किसी ताजा हादसे के ही अवशेष हैं।  

पुलिस ने परिजनों को सौंपे अवशेष

पोस्टमार्टम के बाद पुलिस ने बच्चे के अवशेषों को परिजनों को सौंप दिया है। आईजीएमसी में पोस्टमार्टम के बाद पुलिस की टीम सीधे परिजनों के घर पहुंची व अवशेष उन्हें सौंपे। परिजन अब अपने रीति-रिवाजों के साथ इनका अंतिम संस्कार करवाएंगे। वहीं डीएसपी हैडक्वार्टर शिमला कमल वर्मा ने बताया कि पुलिस ने अवशेषों का पोस्टमार्टम करवा दिया है और अवशेष परिजनों को सौंप दिए हैं। सैंपलों को जांच के लिए फोरैंसिक लैब भेजा जाएगा। फोरैंसिक रिपोर्ट आने के बाद ही असली कारणों का पता चल पाएगा।   

error: Content is protected !!