50 परसेंट कैपेसिटी से ऊपर चली बसें, अतिरिक्त बस मुहैया करवाने में आरएम नाकाम : अनिल कश्यप

बिलासपुर : सरकार ने 50 परसेंट कैपेसिटी के साथ बसों को चलने का आदेश दिया था परंतु कुछ तस्वीरें सामने आई है जिसमें बसें पूरी कैपेसिटी के साथ चल रही है कई बसों में तो ओवरलोडिंग भी पाई गई है ।

राईट यूनिट अध्यक्ष बिलासपुर अनिल कश्यप का कहना है कि आज मौके पर बिलासपुर बस स्टैंड में हमने कुछ बसों का निरीक्षण भी किया जिसमें 100 परसेंट कैपेसिटी के साथ बसें चलीं । जबकि सरकार ने 50 परसेंट सवारियों के साथ बसों को चलने के आदेश दिए हैं । बस अड्डे में एचआरटीसी बिलासपुर आरएम भी मौजूद थे परंतु उन्होंने उन रूटों के लिए कोई अतिरिक्त बस नहीं लगाई जिन रूटों पर बसें 100 परसेंट कैपेसिटी के साथ चल रही थी जबकि बस स्टैंड में अन्य बसें खड़ी थी । उनके सामने से 100 परसेंट सीटिंग कैपेसिटी के साथ बस खड़ी थी परंतु उन्होंने कोई अतिरिक्त बस नहीं लगाई । उन्हें नहीं लगता कि हमें सरकार के दिए आदेशों का पालन करना चाहिए । इतनी गंभीर बीमारी पूरे विश्व में फैली हुई है , अगर इस प्रकार से चला रहा जो स्थिति चली हुई है तब हम चाहकर भी इस बीमारी को फैलने से नहीं रोक सकते । एक क्षेत्रीय प्रबन्धक के पास शक्तियां होती है , वह अतिरिक्त बसें लगा सकते है । परंतु अगर यह लोगों के जीवन को महत्वपूर्ण समझें तब यह संभव हो सकता है ।

माननीय मुख्यमंत्री व परिवहन मंत्री से निवेदन रहेगा की एचआरटीसी प्रबन्धन को निर्देश दिए जाए कि अगर कोई 50 परसेंट सीटिंग कैपेसिटी से ऊपर बस चल रही है तो उस रूट पर अतिरिक्त बस मुहैया करवाई जाए ।

error: Content is protected !!