हिमाचल के सभी 54 प्रवेश द्वार सील्ड, बिना कोविड रिपोर्ट और ई-पास नही मिलेगी एंट्री

कोविड कहर के बीच राज्य सरकार ने हिमाचल की सीमाओं को सील कर दिया है। इस आधार पर मंगलवार रात 12 बजे से राज्य के सभी बॉर्डर पर पुलिस तैनात कर आवाजाही पर निगरानी बढ़ा दी है। राज्य के कुल 54 प्रवेश द्वारों पर नाके स्थापित कर बाहर से आने वालों को कोविड ई-पास पर पंजीकरण के प्रमाण पत्र के बाद ही एंट्री मिलेगी। बस यात्रियों के लिए भी यह आदेश लागू रहेगा। बाहरी प्रदेशों में जाकर 72 घंटे के भीतर लौटने वाले हिमाचलियों को भी इसी प्रक्रिया से गुजरना अनिवार्य होगा। नाकों पर तैनात पुलिस बसों को दो टूक निर्देश हैं कि किसी भी व्यक्ति के प्रवेश के लिए रजिस्ट्रेशन अनिवार्य होगा। इसके अलावा 72 घंटे पहले की आरटी-पीसीआर की नेगेटिव रिपोर्ट या फिर 14 दिन होम क्वारंटाइन रहेगा।

 इसी बीच सोलन, सिरमौर, कांगड़ा और ऊना में मंगलवार रात से नाइट कर्फ्यू शुरू हो गया है। इसके तहत रात 10 बजे से सुबह पांच बजे तक इन चारों जिलों में इंट्राडिस्ट्रिक्ट (जिला के भीतर) आवाजाही पर पूर्णतः रोक रहेगी। हालांकि जरूरी सेवाओं के लिए नाइट कर्फ्यू के आदेशों में छूट रहेगी। गुड्स कैरियर वाहनों की भी आवाजाही जारी रहेगी। बसें भी 50 फीसदी क्षमता के साथ चलती रहेंगी। मंगलवार मध्य रात्रि 12 बजे से लागू हुए इन आदेशों के तहत कांगड़ा जिला के सीमांत क्षेत्रों में 10 नाके स्थापित कर दिए हैं। इनमें डमटाल, कंडवाल, संसारपुर टैरेस तथा फतेहपुर के समीप सुरक्षा कर्मियों के साथ दूसरे कर्मी भी तैनात किए गए हैं। सोलन जिला के बॉर्डर एरिया में छह नाका स्थापित किए गए हैं। परवाणू में दो तथा नालागढ़ के बरोटीवाला, बद्दी, ढेरोवाल और दभोटा बॉर्डर में पुलिस तैनात कर दी गई है।

 ऊना जिला में मैहतपुर, बाथड़ी, मुबारकपुर, अजोली, ऑलियां, पंडोगा, आशापुरी, गगरेट, मरवाड़ी तथा बटोली समेत कुल 19 बॉर्डर एरिया में पुलिस की टुकडि़यां तैनात हैं। सिरमौर जिला में आवाजाही पर निगरानी के लिए 10 नाका स्थापित किए गए हैं। इसके तहत काला अंब, सुकेती, मिनस, खोदरी माजरी, यमुना ब्रिज, बहराल, हरिपुर कौल, सुजन माजरी, ठाकुरद्वारा तथा महल प्रीतनगर में पुलिस की टीमें तैनात कर दी गई हैं। जिला बिलासपुर को नाइट कर्फ्यू से बाहर रखा गया है। बावजूद इसके पंजाब की सीमाओं से सटे बिलासपुर जिला में आवाजाही के लिए जांच बढ़ा दी है। इसके लिए गड़ामोड़ा, टोबा तथा भाखड़ा सहित जिला के नौ बॉर्डर एरिया में नाका स्थापित कर पुलिस कर्मी तैनात किए हैं। प्रदेश भर से सटे सभी राज्यों के 54 स्थानों पर पुलिस की टीमें तैनात कर मॉनिटरिंग के निर्देश दिए गए हैं।

दिखानी होगी कॉपी

हिमाचल में एंट्री के लिए कोविड ई-पास के पोर्टल पर रजिस्ट्रेशन की कॉपी पुलिस टीम को दिखानी जरूरी होगी। इस आधार पर रजिस्ट्रेशन का क्यूआर कोड स्कैन कर संबंधित जिला प्रशासन को भेजा जाएगा। इस आधार पर पंचायतें और अर्बन बॉडीज के प्रतिनिधि आने वालों को 14 दिन के लिए क्वारंटाइन करेंगे।

error: Content is protected !!