भागसुनाग में चला प्रशासन का पंजा, पुलिस की मौजूदगी में हटाए गए अवैध कब्जे

पर्यटन नगरी मैक्लोडगंज के भागसूनाग में धुप नाले से अतिक्रमण हटाने को लेकर दूसरे दिन भी कार्रवाई जारी रही। बुधवार को नगर निगम प्रशासन की इस कार्रवाई के दौरान पुलिस बल भी क्षेत्र में तैनात रहा। इससे पहले मंगलवार को नाले से अतिक्रमण हटाने गई टीम के साथ स्थानीय व्यक्ति द्वारा किए गए हंगामे को देखते हुए निगम प्रशासन भी सुरक्षा बल का सहयोग ले रहा है। क्षेत्र में किसी भी प्रकार के विवाद को रोकने के लिए निगम द्वारा पूरी एहतियात व नियमों के अनुसार कार्रवाई को अमल में लाया जा रहा है।

निगम ने अतिक्रमण हटाने के लिए लगाईं 3 जेसीबी

इसके लिए निगम की तरफ से 3 जेसीबी को अतिक्रमण हटाने के लिए लगाया गया है। इस कार्य को पूरा करने के लिए निगम प्रशासन की तरफ से 4 से 5 दिन लगने की बात कही जा रही है। बुधवार को भी निगम प्रशासन जेसीबी से नाले पर हुए अतिक्रमण को हटाने तथा नाले से मलबा निकालने के कार्य में जुटा रहा। भागसूनाग के अधिकतर लोगों का कहना है कि निगम द्वारा जो कार्रवाई की जा रही है, उसे पूरा किया जाए, जिससे आगामी दिनों में यदि भारी बारिश होती है तो फिर 12 जुलाई जैसी स्थिति उत्पन्न न हो।

मलबा निकालने में लग सकता है समय

बताया जा रहा है कि नाले में स्थिति यह है कि मलबा दशकों से इकट्ठा हो रहा था, उसे निकालने में समय लग रहा है। यही नहीं, नाले पर किए गए अतिक्रमण को हटाने में भी समय लग रहा है। अतिक्रमण के मलबे को हटाने के साथ-साथ नाले से मलबे को निकालने का कार्य जारी है। निगम प्रशासन का कहना है कि 12 जुलाई की घटना के बाद से लोग काफी सहयोग कर रहे हैं तथा स्थानीय लोग चाहते हैं कि नाले की भी पूरी तरह से सफाई की जाए, जिससे आगामी दिनों में बरसात के दौरान फिर कोई घटना घटित न हो। उधर, नगर निगम के आयुक्त प्रदीप ठाकुर ने बताया कि भागसूनाग में नाले से अतिक्रमण हटाने और नाले से मलबा निकालने का कार्य जारी है। 

error: Content is protected !!