कुल्लू की महिला अध्यापिका से 40 लाख की ठगी करने वाली युवती दिल्ली से गिरफ्तार

हिमाचल प्रदेश के कुल्लू के सुल्तानपुर की एक अध्यापिका से फोन द्वारा 40 लाख की लॉटरी का झांसा देकर 15 लाख रुपए की ठगी करने वाली युवती को पुलिस ने गिरफ्तार कर लिया है। आरोपी युवती की पहचान मनीषा पुत्री बाबू लाल निवासी पूल प्रह्लादपुर नई दिल्ली के रूप में हुई है। इस युवती की उम्र 24 साल है। पुलिस ने इसके खिलाफ भारतीय दंड सहिता की धारा 420 के तहत मामला दर्ज किया है। पुलिस ने युवती को गिरफ्तार करके पूछताछ शुरू कर दी है। पुलिस ने बताया कि उनके पास 24 नवम्बर को अध्यापिका ने थाने में शिकायत की थी। शिकायत में महिला ने बताया था कि उसे 1 जून, 2020 को एक फोन कॉल आया और बताया गया कि मैं “कौन बनेगा करोड़पति” में ऑफिसर हूं। आपका मोबाइल नंबर लक्की ड्रा में चुना गया है और आपको 40,00,000 रुपए की लॉटरी लगी है। साथ में कहा गया कि आपको थोड़ा-सा पैसा पहले हमें फीस में देना पड़ेगा। फीस मिलते ही आपको लॉटरी का पैसा मिल जाएगा। आपको पैसा जून से नवम्बर माह तक किस्तों में देना पड़ेगा। उसके बाद आपको 40 लाख रुपये मिल जाएंगे। अध्यापिका फ्रॉड कॉल वालों के झांसे में आ गई और थोड़े-थोड़े करके फ़ोन करने वालों के बैंक खाते में 15 लाख रुपए डाल दिए।

जब महिला अध्यापिका ने बीच में पैसा देने से मना किया तो उसको धमकाया गया कि पैसा नही दोगी तो कौन बनेगा करोड़पति की टीम केस करेगी तथा जुर्माना भी लगेगा। फ्रॉड कॉल करने वालों की धमकियों से महिला अध्यापिका डर गई और उनके बताए गए बैंक खातों में पैसे डालती रही। फ्रॉड कॉल वालों ने यह भी कहा था कि उसका व्हाट्सएप नम्बर अमरीका का है। इस नंबर पर वापस फोन नहीं जा सकता। फ्रॉड कॉल वालों ने लॉटरी की आड़ में महिला अध्यापिका को वित्तीय व माली नुक्सान पहुंचाया व मानसिक तौर पर परेशान किया। फ्रॉड कॉल वालों ने महिला अध्यापिका से 49 व्यक्तियों के खाते में जो पैसे डलवाए थे। कुल्लू पुलिस ने महिला अध्यापिका की शिकायत पर तुरंत मुकद्दमा दर्ज किया गया था और इसमें कुल्लू पुलिस के साइबर सैल ने छानबीन शुरू की और इस गिरोह की डिटेल व अन्य चीजें पता कीं। पुलिस की टीम इस गिरोह की आरोपी को दिल्ली से गिरफ्तार करके कुल्लू लाई है।

Please Share this news:
error: Content is protected !!