38 दिन बाद 11वीं के छात्र आस्तिक गुप्ता का शव बीएसएल जलाशय से हुआ बरामद

सुंदरनगर। Body Recovered in BSL Reservoir, मंडी जिला के सुंदरनगर के एक निजी स्कूल के 11वीं कक्षा के छात्र आस्तिक गुप्ता पुत्र प्रदीप गुप्ता का शव 38 दिन बाद बीएसएल जलाशय से बरामद हुआ है। पुलिस ने शव कब्जे में लेने के बाद स्वजन से उसकी शिनाख्त करवाई।

आस्तिक गुप्ता छह दिसंबर को घर से स्कूल गया था, लेकिन शाम को वापस नहीं लौटा। इसके बाद स्वजन ने अपने स्तर पर उसकी तलाश शुरू की थी। काफी कोशिशों के बाद भी उसका पता नहीं चल पाया था। कुछ दिनों के बाद उसका स्कूल बैग दयारगी के समीप बीएसएल नहर किनारे बरामद हुआ था।

सात दिसंबर को दर्ज करवाई थी गुमशुदा होने की शिकायत

सात दिसंबर को स्वजन ने सुंदरनगर थाना में आस्तिक के गुम होने की रिपोर्ट दर्ज करवाई थी। उसके कई सहपाठियों पर शक जताया था। पूछताछ में सहपाठियों की कोई भूमिका नहीं पाई गई थी। आस्तिक का सुराग लगाने के लिए एनडीआरएफ व पुलिस की टीम ने धनोटू से लेकर दयारगी तक बीएसएल नहर का चप्पा-चप्पा छाना था। स्वजन ने आस्तिक का सुराग बताने वाले को 50 हजार रुपये इनाम देने की घोषणा की थी। आस्तिक गुप्ता के मां-पिता बंजार में रहते हैं। वहीं अपना कारोबार करते हैं। दसवीं कक्षा की पढ़ाई पूरी करने के बाद आस्तिक अपने चाचा के घर बग्गी रहने आया था। वह बग्गी से ही अपने स्कूल सुंदरनगर आता जाता था।

वीरवार दोपहर बाद लोगों ने बीएसएल जलाशय में शव बहता देख पुलिस को सूचना दी। थाना प्रभारी अंकुर शर्मा अपनी टीम के साथ मौके पर पहुंचे। बीएसएल कर्मियों की मदद से शव को जलाशय से बाहर निकाला।

डीएसपी सुंदरनगर दिनेश कुमार ने 38 दिन से लापता आस्तिक गुप्ता का शव बीएसएल जलाशय से बरामद होने की पुष्टि की है। आस्तिक ने नहर में खुद छलांग लगाई थी या फिर किसी ने उसे मार कर फेंका था पोस्टमार्टम रिपोर्ट आने के बाद इस बात का पता चल पाएगा।

Please Share this news:

इस समाचार पर अपनी प्रतिक्रिया जरूर दें:

error: Content is protected !!