विधानसभा उपाध्यक्ष डॉक्टर हंसराज की अध्यक्षता में भंजराडू में आयोजित हुआ 23 वां जनमंच कार्यक्रम

तीसा, अनिल कुमार। चंबा जिला का 23 वां जनमंच कार्यक्रम चुराह विधानसभा क्षेत्र के भंजराडू में आयोजित हुआ । कार्यक्रम की अध्यक्षता विधानसभा उपाध्यक्ष डॉक्टर हंसराज ने की । इस मौके पर अपने संबोधन में उन्होंने कहा कि जनमंच सरकार द्वारा शुरू किया गया ऐसा कार्यक्रम है जिसके जरिए लोगों की समस्याओं का त्वरित समाधान घर द्वार पर संभव होता है। उन्होंने कहा कि मुख्यमंत्री जयराम ठाकुर के कुशल नेतृत्व में प्रदेश में विकास के नए आयाम स्थापित हो रहे हैं । डॉ . हंसराज ने यह भी कहा कि वर्तमान समय में वैश्विक कोरोना महामारी से लोगों के सामाजिक स्ट्रक्चर में बदलाव आया है । युवाओं में उन्नति और तरक्की के लिए अवसरों को उपलब्ध करवाने के लिए विभिन्न विभागों को क्षेत्र में उपलब्ध स्थानीय संसाधनों के अनुरूप कार्य करने को कहा गया है ।

विधानसभा उपाध्यक्ष ने कहा कि चुराह विधानसभा क्षेत्र के तहत वर्ष 2022 तक पात्र लोगों को पक्के घरों की सुविधा उपलब्ध करवाई जाएगी । इसके तहत प्रधानमंत्री आवास योजना के तहत पांच हजार आवास मामलों को स्वीकृति प्रदान की गई है । इसके अलावा एक हजार सात सौ करीब आवास मामलों में प्रथम और द्वितीय किस्त प्रदान की जा चुकी है । उन्होंने यह भी कहा कि योजना के कार्यान्वयन को लेकर संबंधित विभाग को प्राथमिकता के साथ व्यवस्था सुनिश्चित बनाने को कहा गया है ।

विधानसभा उपाध्यक्ष ने हल्के में बेहतर विद्युत आपूर्ति व्यवस्था सुनिश्चित बनाने के लिए किए जा रहे कार्यों का जिक्र करते हुए कहा कि विशेषकर सर्दियों के दौरान लोगों को आने वाली कठिनाइयों के मद्देनजर कुड़थला स्थित स्विच यार्ड में स्थानीय जल विद्युत परियोजनाओं पर आधारित विद्युत आपूर्ति व्यवस्था के लिए उपकरणों को जल्द स्थापित किया जाएगा । क्षेत्र में सड़क निर्माण को विशेष प्राथमिकता बताते हुए डॉ हंसराज ने कहा कि घाटी के दूरदराज के सभी क्षेत्र जब सड़क नेटवर्क से जुड़ेंगे तो आर्थिक समृद्धि के नये द्वार भी खुलेंगे ।

उन्होंने यह भी कहा कि क्षेत्र में करोड़ों रुपयों की लागत से विभिन्न विकास के कार्यों को अंजाम दिया जा रहा है । उन्होंने निर्माणाधीन बस स्टैंड का जिक्र करते हुए कहा कि 18 करोड़ रुपए की लागत से बनने वाले बस स्टैंड परिसर में सभी आधुनिक सुविधाओं का प्रावधान रखा गया है । विधानसभा उपाध्यक्ष ने प्रदेश सरकार द्वारा आरंभ की गई विभिन्न योजनाओं का जिक्र करते हुए कहा कि हल्के में महत्वकांक्षी गृहणी सुविधा योजना के अंतर्गत सेचूरेशन हासिल की गई है । इसी तरह हिम केयर योजना भी लोगों के लिए किसी वरदान से कम नहीं साबित हो रही है । उन्होंने यह भी कहा कि कोई भी योजना या स्कीम लोगों की सक्रिय भागीदारी से ही सकारात्मक परिणाम में सहायक हो सकती है ।

जनमंच कार्यक्रम के दौरान 11 पंचायतों के लोगों द्वारा 304 मांगों और समस्याओं को प्रस्तुत किया गया जिसमें से अधिकतर का मौके पर ही निपटारा कर दिया गया।

इस दौरान स्वास्थ्य विभाग द्वारा विकलांगता प्रमाण पत्र बनाने के लिए शिविर का आयोजन भी किया गया इसमें 14 लोगों के मौके पर दिव्यांग प्रमाण पत्र बनाए गए जबकि आयुष और स्वास्थ्य विभाग द्वारा 396 लोगों की स्वास्थ्य जांच और निशुल्क और दवाइयां वितरित की गई । कार्यक्रम में 30 लोगों को कोरोना वैक्सीन लगाई गई ।

आयुष्मान भारत के तहत 10 लोगों के स्वास्थ्य कार्ड जारी किए गए ।
इसी तरह चार राजस्व इंतकाल दर्ज किए गए जबकि चार आधार कार्ड भी बनाए गए । कार्यक्रम में 30 पात्र लोगों को विभिन्न पेंशन योजनाओं के तहत चयनित किया गया ।

इस दौरान विधानसभा उपाध्यक्ष ने जनमंच कार्यक्रम के लिए चयनित ग्राम पंचायतों में शेष चार बचे लाभार्थियों को ग्रहणी सुविधा योजना के अंतर्गत गैस कनेक्शन वितरित किए । इसके अलावा विधानसभा उपाध्यक्ष ने महिला एवं बाल विकास द्वारा कार्यान्वित बेटी है अनमोल योजना के तहत 356 एफडीआर भी वितरित की ।

इससे पहले विधानसभा उपाध्यक्ष ने स्वर्णिम हिमाचल के तहत स्वास्थ्य विभाग द्वारा कार्यान्वित की जा रही विभिन्न योजनाओं के प्रचार-प्रसार को लेकर जागरूकता वाहन और जीवनधारा मोबाइल मेडिकल यूनिट वाहन को हरी झंडी दिखाकर रवाना किया । उन्होंने इस दौरान विभिन्न विभागों द्वारा लगाए गए स्टालों और मेडिकल कैंप का भी मुआयना किया ।

इस मौके पर उपायुक्त डीसी राणा, वरिष्ठ पुलिस अधीक्षक एस अरुल कुमार, अतिरिक्त जिला दंडाधिकारी अमित मेहरा, एसडीएम अर्पिता चंदेल, अध्यक्ष भाजपा मंडल चुराह ताराचंद ठाकुर सहित विभिन्न विभागों के जिला अधिकारी और जनप्रतिनिधि मौजूद रहे ।

इस समाचार पर अपनी प्रतिक्रिया जरूर दें:

error: Content is protected !!