शिक्षा बोर्ड ने मंगवाया परीक्षा परिणाम के लिए डाटा, एक हजार स्कूलों ने अपलोड किया गलत डाटा

Himachal News: हिमाचल प्रदेश स्कूल शिक्षा बोर्ड ने दसवीं कक्षा का परीक्षा परिणाम तैयार करने के लिए स्कूलों से विद्यार्थियों का डाटा मंगवाया है। लेकिन प्रदेश के करीब एक हजार स्कलों ने गलत डाटा अपलोड कर दिया है। शिक्षा बोर्ड ने इन स्कूलों को सही डाटा अपलोड करने के निर्देश दिए हैं। इसके लिए कमेटी का भी गठन किया है। वहीं प्रदेश स्कूल शिक्षा बोर्ड बारहवीं कक्षा के विद्यार्थियों का डाटा अपलोड करने के लिए आज लिंक ओपन कर रहा है। 12वीं के परीक्षार्थियों का परीक्षा परिणाम तैयार करने के लिए परीक्षार्थियों का डाटा मंगवाया जा रहा है।

ऐसे होगा दसवीं का परीक्षा परिणाम तैयार

प्रदेश स्कूल शिक्षा बोर्ड दसवीं कक्षा के परीक्षारिथयों का परीक्षा परिणाम सात मानदंडों के तहत तैयार कर रहा है। इन सात मानदंडों में नौंवी कक्षा, प्रेक्टिकल, इंटरनल असेस्मेंट, पहली व दूसरी टर्म की परीक्षा, प्री बोर्ड व हिंदी का पेपर जो बोर्ड ने लिया है। उसका मूल्यांकन करवाकर और इसका आकलन कर विद्यार्थियों का परीक्षा परिणाम घोषित किया जाएगा। बोर्ड की ओर से आनलाइन माडयूल तैयार किया गया है। इसके तहत सभी स्कूलों के विद्यार्थियों का डाटा स्कूलों द्वारा अपलोड किया जा रहा है। लेकिन एक हजार स्कूलों ने अपना डाटा गलत अपलोड कर दिया है। गलत डाटा अपलोड करने वालों में छह सौ सरकारी स्कूल हैं।

यह बोले शिक्षा बोर्ड के अध्यक्ष

हिमचाल प्रदेश स्कूल शिक्षा बोर्ड के अध्यक्ष डा. सुरेश कुमार सोनी ने कहा कि प्रदेश के एक हजार स्कूलों ने गलत डाटा अपलोड किया है। इन एक हजार में छह सौ सरकारी स्कूल भी शामिल हैं। इसके लिए गठित कमेटी सदस्यों ने संबधित स्कूलों से संपर्क कर सही डाटा भेजने को कहा है। वहीं 12वीं के परीक्षार्थियों का डाटा मंगवाने के लिए बोर्ड आज लिंक उपलब्ध करवा रहा है।

Get delivered directly to your inbox.

Join 1,139 other subscribers

error: Content is protected !!