सीआईयू और पद्धर पुलिस को बड़ी कामयाबी, गडग़ांव में 15 लाख अफीम के पौधे किए नष्ट

शिखर पर पहुंचा दिया इन नशे के सौदागरों ने पद्धर उपमंडल की सुंदर चौहारघाटी को। एक तरफ कोरोना से लड़ रहा है पूरा देश तो वहीं कुछ चंद लोग नशे की खेती को तैयार करने लगे हुए है। पद्धर पुलिस और सीआईयू की मंडी टीम ने बुधवार को चौहारघाटी की ग्राम पंचायत तरसवान के गडग़ांव में करीब 66 बीघा भूमि पर अवैध अफीम की अपार खेती पकडऩे में कामयाबी हासिल की है। चारों और इस क्षेत्र में जंहा भी नजर डाले वहां अफीम की ही खेती नजर आ रही थी। जानकारी के अनुसार इस अभियान में 4 टीमें गठित की गई थी, जो कि बुधवार को पद्धर से सुबह आठ बजे रवाना हुई और चार घटे की खड़ी चढ़ाई को पार करते हुए गडग़ांव पहुंची। इस ऑपरेशन को अंजाम देने के लिए पुलिस को 17 घंटे से अधिक का समय लगा।

आपको बता दें कि अभी हाल में भी दो अप्रैल को कथोग एकाशला में 4 बीघा में 2500 पौधे व 4 मई को चौहारघाटी के मधुरानं में 10 बीघा में एक लाख 42 हजार के करीब अवैध अफीम के पौधे बरामद कर केस भी बनाए है। उधर, मंडी एसपी शालिनी अग्निहोत्री ने कहा कि इस अभियान को अलग अलग टीमों का गठन किया गया है और 17 घंटे से अधिक इस अभियान को चलाए हुए हो गए है और अभियान अभी भी जारी है।

इसके बारे में पद्धर डीएसपी पद्धर लोकेंद्र नेगी ने बताया कि घाटी में अफीम की अवैध खेती के बारे में एक संयुक्त ऑपरेशन चलाया गया है, जिसमें एनडीपीएस एक्ट 18 के अंतर्गत 4 मामले दर्जकर एफआईआर दर्ज की गई है। इस अवसर पर स्थानीय राजस्व विभाग के कर्मी व स्थानीय पंचायत के प्रधान भी मौके पर थे।

error: Content is protected !!