Right News

We Know, You Deserve the Truth…

हिमाचल प्रदेश सरकार दवाइयों की कीमतों को नियंत्रित करे- अनूप केसरी


RIGHT NEWS INDIA


आम आदमी पार्टी हिमाचल प्रदेश अध्यक्ष अनूप केसरी ने आज प्रेस विज्ञप्ति जारी करते हुए मुख्यंमत्री पर सीदे निशाना सादा है कि कम से कम प्रदेश के मुखिया इस महामारी के मौके पर दवाइयों के दामों को नियंत्रित करें। महामारी के इस भयानक दौर में महंगाई ने कोई कसर नही छोड़ी साथ ही सरकार ने भी महंगाई को देख कर मौन धारण कर लिया है। इस महामारी के दौर में खाना या रोजमर्रा की चीजों के साथ साथ दबाईओं व मेडिकल इक्विपमेंट कि सख्त जरूरत है जैसे कि ऑक्सीमेटर, मास्क आदि के मनचाहे दाम वसूले जा रहे हैं और सरकार चुप है,क्यों? सरकार की यह चुपी आने वाले समय मे घातक सिद्ध होगी।

दवाइयों के दाम नियन्त्रित करे सरकार- अनूप केसरी
सरकार का न तो दवाइयों के मूल्य को लेकर न ही महंगाई को लेकर चिंतित है, सरकार की तरफ से आमजन के लिए मंहगाई या रोजगार को लेकर अब तक कोई राहत नही आई। ज्ञात रहे कि इस महामारी में रोजगार खो चुके लाखों लोगों के लिए मुसीबत दिन प्रतिदिन बढ़ती जा रही है। दूसरी तरफ सूबे के मुखिया अपनी धुन में मस्त है। इस मुश्किल दौर में यदि लोकडौन जैसी बंदिशें जरूरी है तो आमजन के लिए रोजमर्रा की चीजों के साथ साथ दवाइयाँ भी अत्यंत जरूरी है। इस समय मे दवाइयों की खरीद हर किसी को करनी ही पड़ रही है। लेकिन सरकार इस कदर लूट रही है कि आमजन के जीना दूबर हो रहा है।

दूसरी तरफ गुज़ारा कैसे चले इस दौर में यहां बाजार में सरसों का तेल 220 रुपये व सरकारी डिपुओं में 170 बिक रहा कैसे लोगों की इम्युनिटी मजबूत होगी। महंगाई की मार इतनी घातक है कि मरना सस्ता हो गया है और जीना महंगा हो गया। सरकार हर तरफ से फेल है सब्जियों के दाम आसमाँ छू रहें है। महामारी की तरह ही दालों के दाम बढ़ते जा रहे हैं और सरकार चुप है। सरकार ने क्या विशेष सहूलत या सुविधा दी है? या फिर आमजन के लिए क्या नई योजना इन काल से मुक्ति पाने के लिए दी है? यह सरकार को बताना ही होगा।

हर मोर्चे पर फेल यह सरकार आमजन को निचोड़ रही है। इस महामारी में सरकार को खुद आईना देखने की जरूरत है खुद का आत्ममंथन करने की जरूरत है कि उन्होंने सिवा लूट के क्या किया है।


Advertise with US: +1 (470) 977-6808 (WhatsApp Only)


error: Content is protected !!