डोहरनी नाले में भारी भूस्खलन से ग्राम्फू काजा सड़क बन्द, बहाली में जुटा बीआरओ

Read Time:3 Minute, 13 Second

ग्राम्फू के समीप डोहरनी नाले के पास पहाड़ी से भारी भूस्खलन हुआ है जिससे मनाली ग्राम्फू काजा मार्ग अवरुद्ध हो गया है। मार्ग बंद होने से ग्राम्फू की ओर कोकसर व काजा की ओर से आने वाले वाहन छतड्डू में फंसे हुए हैं। बीआरओ मौके पर पहुंच गया है और सड़क की बहाली में जुट गया है। पहाड़ी से भारी भरकम चट्टानों के खिसकने से बीआरओ को सड़क बहाली में खासी मशक्कत करनी पड़ रही है। सड़क बहाली में बीआरओ को समय लग सकता है।

प्रशासन ने चंद्रताल व काज़ा जाने वाले लोगों को कोकसर- ग्रामफू के रास्ते से यात्रा ना करने की सलाह दी है। वही दूसरी ओर उदयपुर- तिन्दी- कडूनाला सड़क भी जगह-जगह मलबा आने से यातायात के लिए बाधित है।

इस मार्ग की बहाली में भी अभी समय लगेगा। लाहुल स्पीति पुलिस ने इंटरनेट मीडिया में उदयपुर-तिन्दी-कडूनाला सड़क सहित काजा मार्ग के बन्द होने की जानकारी सांझा की है ताकि कोई भी पर्यटक व लोग इस मार्ग पर सफर में न निकले। हालांकि रोहतांग दर्रे सहित मनाली लेह मार्ग वाहनों के लिए खुला है। उपायुक्त लाहुल स्पीति नीरज कुमार ने बताया कि भारी वर्षा के कारण कोकसर- ग्राम्फु- काजा सड़क यातायात के लिए बाधित हुई है जिसमें कई स्थानों पर मलवा सड़क पर भर गया है।

चंद्रताल व काज़ा जाने वाले यात्री कोकसर- ग्रामफू के रास्ते से यात्रा ना करें। वही दूसरी ओर उदयपुर-तिन्दी-कडूनाला सड़क भी जगह-जगह मलबा आने से यातायात के लिए बाधित है। मंगल मनेपा क्षेत्रीय प्रबंधक पथ परिवहन निगम केलांग ने बताया कि उदयपुर- -तिन्दी-कड़ूनाला के बीच कई यात्री फंसे हुए हैं जिन्हें निकालने के लिए दो बसें भेज दी गई हैं। मौसम विभाग द्वारा जारी अलर्ट को देखते हुए यात्री इन दोनों सड़कों पर दो दिनों तक यात्रा न करें।

उन्होंने कहा कि बीआरओ से प्राप्त सूचना के अनुसार अभी कोकसर- ग्राम्फु सड़क को बहाल करने में कम से कम दो दिन का समय लगेगा यातायात बहाल होने के पश्चात ही इन मार्गों पर यात्रा करें।

एसपी लाहुल स्पीति मानव वर्मा ने भी इन मार्गों पर सफर करने वाले राहगीरों से आग्रह किया कि वो सड़क बहाली होने तक अपने गंतव्य से न चलें।

error: Content is protected !!
Hi !
You can Send your news to us by WhatsApp
Send News!