सरकारी स्कूलों के आठवीं तक के बच्चों की होगी मिड टर्म ऑनलाइन परीक्षाएं

Read Time:2 Minute, 11 Second

कोरोना महामारी के खतरे के बीच सरकारी स्कूलों में बच्चों की परीक्षाएं (फारमेटिव असेसमेंट) आनलाइन ही होंगी। कोरोनाकाल में स्कूल बंद हैं। ऐसे में विभाग ने परीक्षाएं आनलाइन करवाने की योजना तैयार की है। समग्र शिक्षा अभियान (एसएसए) की ओर से इसका प्रस्ताव तैयार कर मंजूरी के लिए सरकार को भेजा गया है। जल्द ही सचिव शिक्षा राजीव शर्मा की अध्यक्षता में अधिकारियों की बैठक होगी। इसमें परीक्षा पर चर्चा के बाद अंतिम निर्णय लिया जाएगा। यह तय है कि परीक्षाएं अगस्त के दूसरे सप्ताह में होंगी। विभाग ने स्कूलों को परीक्षाएं करवाने के लिए तैयारी करने को कहा है।

हर घर पाठशाला कार्यक्रम के तहत बच्चों को जितना सिलेबस कवर करवाया गया है, उतना ही परीक्षा में पूछा जाएगा। जिन विद्यार्थियों के पास मोबाइल फोन की सुविधा नहीं है, वे आंसर शीट पर पेपर लिखकर इसकी हार्ड कापी स्कूल में जमा करवा सकते हैं। जो विद्यार्थी आनलाइन परीक्षा देंगे, उन्हें भी आंसरशीट बाद में स्कूल में जमा करवानी होगी।

परीक्षा का मूल्यांकन करने के बाद इसकी बाकायदा रिपोर्ट तैयार की जाएगी। इसमें देखा जाएगा कि कितने विद्यार्थी पढ़ाई में कमजोर हैं। एसएसए की योजना है कि परीक्षाएं शुरू होने से पहले जरूरतमंद विद्यार्थियों को स्मार्ट फोन दिए जाएं ताकि उनकी पढ़ाई में किसी तरह की बाधा न आए। विभाग के पास 23 जुलाई तक ऐसे विद्यार्थियों का डाटा उपलब्ध होगा, जिनके पास स्मार्ट फोन नहीं है।

Your Opinion on this News:

error: Content is protected !!
Hi !
You can Send your news to us by WhatsApp
Send News!